छत्तीसगढ़

बिना कार्य किए शिक्षक ले रहा वेतन, स्थानीय व्यक्ति को रखा बच्चों को पढ़ाने

प्रकाश यादव:

कसडोल: कसडोल विकासखंड के ग्राम करमेल शासकीय प्राथमिक शाला में पदस्थ प्रधान पाठक धनेश्वर साहू सप्ताह में एक या दो बार ही स्कूल पहुंचते हैं और उपस्थिति पंजी में पूरे सप्ताह का हस्ताक्षर कर पुनः घर आ जाते हैं एवं अपने स्थान पर स्कूल में बच्चों को पढ़ाने के लिए प्यारी लाल भोई नामक स्थानीय व्यक्ति को रखा है जिसे 4500 रुपये पारिश्रमिक धनेश्वर साहू द्वारा दिया जाता है।

वही पूछने पर प्यारी लाल भोई ने बताया की शिक्षक धनेश्वर साहू लकवा ग्रस्त है इसलिए उसके कहने पर मैं 3 वर्ष से यहां पढ़ा रहा हूं और उक्त शिक्षक पूरे 3 वर्ष से सप्ताह में एक या दो बार ही स्कूल आते हैं और पूरे सप्ताह का हस्ताक्षर कर चले जाते हैं वही इस संबंध में विकासखंड शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता से जानकारी पूछने पर जानकारी नहीं होना बताएं साथ ही जांच कर कार्यवाही करने की बात कही।

वही स्थानीय लोगों का कहना है कि शिक्षक यदि लकवा ग्रस्त है तो इसकी सूचना उच्च अधिकारियों को दी जानी चाहिए न की बिना सूचना किए अपने ही द्वारा शिक्षक नियुक्त करें।

Tags
Back to top button