संसदीय सचिव के साथ शिक्षक संघ के पदाधिकारियों की हुई बैठक

मांगो को लेकर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में कमेटी बनाकर शीघ्र निर्णय लेने की मांग

ब्यूरो चीफ:- विपुल मिश्रा
रिपोर्टर:- प्रणव कुमार

छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन प्रदेश अध्यक्ष संजय शर्मा, संयोजक सुधीर प्रधान, वाजिद खान,उपाध्यक्ष हरेंद्र सिंह, देवनाथ साहू, बसंत चतुर्वेदी, प्रवीण श्रीवास्तव, विनोद गुप्ता, डॉ कोमल वैष्णव, प्रदेश सचिव मनोज सनाढय, प्रदेश कोषाध्यक्ष शैलेन्द्र पारीक ने बताया कि संसदीय सचिव व विधायक चंद्रदेव राय व शिक्षा विभाग के संसदीय सचिव द्वारिका पटेल जी ने शिक्षक संघ से जुड़े हुए सभी प्रदेश अध्यक्षों के साथ वर्चुअल बैठक करने समस्याओं व मांगो के सम्बंध में चर्चा की तथा मांगो को सुना।संसदीय सचिव के साथ शिक्षक संघ के पदाधिकारियों की हुई बैठक

वर्चुअल बैठक

वर्चुअल बैठक के लिए संसदीय सचिव को धन्यवाद देते हुए मुख्यमंत्री जी द्वारा अनुकम्पा नियुक्ति हेतु 10% की सीमा को शिथिल किये जाने का स्वागत करते हुए छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष संजय शर्मा ने मांग व पक्ष को विस्तार से रखा जिसमे –

1, कोविड संक्रमण में दिवंगत शिक्षकों के आश्रित को 50 लाख का बीमा कवर दिया जावे, दिल्ली सहित देश के कई राज्यो में बीमा कवर की राशि दी गई है।

2, तकनीकी संविलियन मानते हुए पंचायत/ननि संवर्ग के दिवंगत शिक्षकों के आश्रित को अनुकम्पा नियुक्ति प्रदान किया जावे, साथ ही उन्हें सहायक शिक्षक/सहायक शिक्षक प्रयोगशाला व चतुर्थ श्रेणी में शीघ्र नियुक्ति दिया जावे।

3, प्रथम नियुक्ति के तिथि के आधार पर उच्च स्तर का क्रमोन्नति दिया जावे।

4, एल बी संवर्ग को उनके पद पर प्रथम नियुक्ति के अनुभव का समय गणना कर शीघ्र पदोन्नत्ति दिया जावे।

5, सहायक शिक्षक संवर्ग के वेतन विसंगति को दूर किया जावे।

6, पुरानी पेंशन बहाल करने की बात जन घोषणा में भी है, अतः तत्काल पुरानी पेंशन लागू करने कार्यवाही किया जावे।

उपरोक्त मांगो के साथ और विषय के निराकरण हेतु मुख्य सचिव की अध्यक्षता में समय सीमा की कमेटी बनाकर, सभी प्रतिनिधियों के साथ बैठक करके शीघ्र निर्णय लेने का पक्ष प्रदेश अध्यक्ष संजय शर्मा ने की है।

वर्चुअल बैठक में छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष संजय शर्मा, प्रदेश संयोजक सुधीर प्रधान, प्रदेश उपाध्यक्ष देवनाथ साहू, प्रवीण श्रीवास्तव शामिल हुए।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button