खेल

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जीत के बहुत नजदीक पहुंच गई टीम इंडिया

दूसरा 10 अक्टूबर से पुणे और 19 अक्टूबर से रांची में होगा तीसरा टेस्ट

विशाखापत्तनम:भारत-दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन टेस्ट की सीरीज का पहला मैच बुधवार को विशाखापट्टनम में खेला गया. अब दोनों टीमों के बीच सीरीज का दूसरा टेस्ट 10 अक्टूबर से पुणे और तीसरा टेस्ट 19 अक्टूबर से रांची में होगा.

मैच के चौथे दिन का खेल खत्म होने तक टीम इंडिया को जीत के लिए 9 विकेट की जरूरत थी और दक्षिण अफ्रीका लक्ष्य से 378 रन दूर थी दक्षिण अफ्रीका की 431 रन की पहली पारी को देख कर लग नहीं रहा था कि टीम इंडिया के यह जीत आसान होगी,

लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने पहले सत्र में ही सात विकेट झटक कर टीम को जीत के करीब ला दिया. इस तरह तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले मैच के आखिरी दिन टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जीत के बहुत नजदीक पहुंच गई है.

छाई भारतीय गेंदबाजी

लंच तक दक्षिण अफ्रीका के 8 विकेट गिर चुके थे. दक्षिण अफ्रीका को जीत के लिए 278 रन और चाहिए थे. टीम का स्कोर 117 रन हो गया था. टीम इंडिया के लिए लंच तक जडेजा ने चार विकेट, अश्विन ने एक, मोहम्मद शमी ने तीन विकेट लिए.

जडेजा ने पारी की और अश्विन ने दिन की शुरुआत की

9 ओवर में मेहमान टीम ने एक विकेट पर 11 रन बना लिए थे. टीम के अहम बल्लेबाज डीन एल्गर एक बार फिर रवींद्र जडेजा की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हो गए थे. वे केवल 2 रन ही बना सके जबकि पहली पारी में एल्गर ने शानदार 160 रन की पारी खेली थी. इसके बाद पांचवे दिन का खेल शुरू होने पर अश्विन ने अपने करियर का 350 वां विकेट लेते हुए थियुनिस डि ब्रूयुन को बोल्ड कर दिया और मेहमान टीम को बैकफुट पर ला दिया.

मोहम्मद शमी के तीन लगातार बोल्ड

पारी के 12वें ओवर में मोहम्मद शमी ने टेम्बा बवुमा को बोल्ड कर दक्षिण अफ्रीकी टीम को संकट में डाल दिया. बवुमा शमी की शानदार इनकटर पर बोल्ड हुए. कुछ देर तक कप्तान फाफ डु प्लेसिस और एडिन मार्करम ने संघर्ष जरूर किया लेकिन मोहम्मद शमी ने पहले कप्तान डुप्लेसिस को 13 की निजी स्कोर पर और उसके दो ओवर बाद क्विंटन डि कॉक को भी बोल्ड कर टीम इंडिया को जीत के नजदीक ला दिया.

फिर जडेजा का चला जादू

60 के स्कोर पर आधी मेहमान टीम पवेलियन लौट गई थी. लेकिन 27वें ओवर में जडेजा ने एडिन मार्करम को अपनी ही गेंद पर कैच किया और उसके बाद उसी ओवर में केशव महाराज और फिर वर्नेन फिलेंडर, दोनों को शू्न्य पर एलबीडब्ल्यू आउट कर टीम इंडिया को जीत के नजदीक ला दिया.

पेड्ट और मुथुस्वामी ने की साझेदारी

डेन पिड्ट और सेनुरन मुथुस्वामी ने 9वें विकेट लिए 70 के स्कोर के बाद बढ़िया बैटिंग की और पहले टीम की स्कोर 100 के पार कराया और टीम इंडिया के बॉलर्स को पहले सत्र में जीत से दूर रखा. दोनों ने कुछ बेहतरीन बड़े शॉट्स खेले और 47 रन की अहम साझेदारी की.

Tags
Back to top button