टीम इंडिया के पास अभी भी है, मौका अपनी बादशाहत बचाने का

भारत इस वक्त आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में 116 अंकों के साथ पहले स्थान पर है|

भारत लंबे समय से आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन बना हुआ है लेकिन अब इस सीरीज के दौरान उसकी बादशाहत पर खतरा मंडरा रहा है।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज 6 दिसंबर से एडिलेड में शुरु होगी।

ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि अन्य टीमों ने भी बेहतर प्रदर्शन किया हैं। श्रीलंका को उसी के घर में 3-0 से रौंदकर इंग्लैंड दूसरे क्रम पर पहुंच चुका है।

भारत इस वक्त आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में 116 अंकों के साथ पहले और इंग्लैंड 108 अंकों के साथ दूसरे क्रम पर हैं।

इंग्लैंड ने श्रीलंका के खिलाफ सीरीज से पहले शुरुआत 106 अंकों के साथ की थी और यह सीरीज जीत से उसे 2 अंकों का लाभ हुआ।

द. अफ्रीका 106 अंकों के साथ तीसरे, न्यूजीलैंड 102 अंकों के साथ चौथे और ऑस्ट्रेलिया 102 अंकों के साथ पांचवें क्रम पर हैं।

भारत विदेशी धरती पर अपनी पिछली दोनों सीरीज द. अफ्रीका और इंग्लैंड के हाथों गंवा चुका है। अब उसे ऑस्ट्रेलिया से भिड़ना है जहां उसका रिकॉर्ड अच्छा नहीं हैं।

यदि ऑस्ट्रेलिया ने भारत का 4-0 से सफाया कर दिया और द. अफ्रीका ने पाकिस्तान को 3-0 रौंद दिया तो आईसीसी रैंकिंग में द. अफ्रीका शीर्ष पर पहुंच जाएगा।

इस स्थिति में ऑस्ट्रेलिया दूसरे स्थान पर आ जाएगा। भारत रैंकिंग में इंग्लैंड से नीचे फिसलकर चौथे स्थान पर पहुंच जाएगा।

ऑस्ट्रेलिया के पास भी शीर्ष पर पहुंचने का मौका रहेगा लेकिन इसके लिए उसे भारत को 4-0 से हराना होगा और यह उम्मीद करनी होगी कि द. अफ्रीका के खिलाफ पाकिस्तान टेस्ट सीरीज में कम से कम एक टेस्ट जीत ले या फिर सीरीज ड्रॉ हो जाए।

भारत का क्लीन स्वीप करने पर ऑस्ट्रेलिया के 110 अंक होंगे और यदि द. अफ्रीका ने पाकिस्तान को 2-1 से हराया तो उसके 108 अंक हो जाएंगे।

यदि भारत को शीर्ष पर बने रहना है तो विराट कोहली की टीम को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दमदार प्रदर्शन करना होगा।

यदि भारत ने सीरीज जीत ली तो उसकी शीर्ष पर पकड़ और मजबूत हो जाएगी। भारत यदि सीरीज 4-0 से जीतेगा तो उसके 120 अंक हो जाएंगे।

1
Back to top button