क्रिकेटखेल

IndvsNZ: टीम इंडिया के पक्ष में वानखेड़े के ये रिकॉर्ड, कोहली का होगा 200वां वनडे

ऑस्ट्रेलिया को वनडे सीरीज में 4-1 से रौंदने के बाद अब टीम इंडिया का अगला मिशन न्यूजीलैंड को भी पस्त करने का है. 3 मैचों की वनडे सीरीज का पहला वनडे आज दोपहर 1:30 बजे से मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाएगा.

पिछले साल जब न्यूजीलैंड की टीम भारत दौरे पर आई थी तो टीम इंडिया ने उन्हें 3-2 से मात देकर वनडे सीरीज अपने नाम की थी.

पिछली बार 5 मैचों की वनडे सीरीज का फैसला आखिरी मैच में हुआ था. उससे पहले दोनों टीमें 2-2 से बराबर थी और सीरीज बहुत रोमांचक मोड़ पर पहुंच गई थी. इस बार भी फैंस को ऐसी ही दिलचस्प टक्कर देखने को मिल सकती है.

मुंबई में कोहली का 200वां वनडे मैच

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के लिए मुंबई वनडे बहुत खास है. आपको बता दें कि यह उनका 200वां वनडे मैच होगा. विराट कोहली के लिए यह एक बड़ी उपलब्धि इसलिए भी है, क्योंकि इसी मैदान पर टीम इंडिया ने वर्ल्ड कप जीता था और यहीं वह अपने वनडे करियर का 200वां मैच खेलेंगे.

कोहली ने अबतक 199 वनडे मैचों में 55.14 की औसत से 8767 रन बना चुके हैं जिसमें 30 शतक और 45 अर्धशतक भी शामिल हैं. ऐसे में अपने 200वें वनडे मैच में कोहली एक बड़ी पारी खेल कर इसे यादगार बनाना चाहेंगे.

वानखेड़े में टीम इंडिया का रिकॉर्ड शानदार

वानखेड़े स्टेडियम में टीम इंडिया के रिकॉर्ड की बात करें तो वह बहुत ही शानदार रहा है. यहां खेले 17 वनडे मैचों में भारतीय टीम ने 10 मुकाबलों में जीत दर्ज की है. जिसमें वर्ल्ड कप 2011 के फाइनल में श्रीलंका के खिलाफ जीत भी शामिल है.

टीम इंडिया यहां आखिरी बार वनडे मुकाबले में साउथ अफ्रीका से भिड़ी थी. जिसमें, उसे 214 रनों से बड़ी हार का सामना करना पड़ा था.

साउथ अफ्रीका ने टीम इंडिया को 439 रनों का लक्ष्य दिया था. जिसके जवाब में भारतीय टीम 224 रनों पर ही सिमट गई.

भारतीय सरजमीं पर टीम इंडिया का रिकॉर्ड

अपनी धरती पर वनडे सीरीज में टीम इंडिया का रिकॉर्ड बहुत शानदार रहा है. आस्ट्रेलिया से 2009-10 में 7 मैचों की वनडे सीरीज 4-2 से हारने के बाद भारतीय टीम 16 बाईलैटरल वनडे सीरीज में सिर्फ पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रीका से हारा है.

पाकिस्तान ने साल 2012 में भारत में खेली वनडे सीरीज 2-1 से जीती थी. जबकि साउथ अफ्रीका ने 2015 में टीम इंडिया को 3-2 से वनडे सीरीज में शिकस्त दी थी.

लेकिन उसके बाद से भारत ने अपनी सरजमीं पर लगातार तीन बाईलैटरल वनडे सीरीज जीती है. अपराजेय होती जा रही भारतीय टीम ने जीत का ऐसा तिलिस्म अपने इर्द गिर्द बना लिया है, जिसे तोड़ना आसान नहीं लग रहा.

वानखेड़े की पिच

मुंबई के वानखेड़े की पिच बल्लेबाजों के लिए स्वर्ग है. इस पिच पर खूब रन बनने की उम्मीद है. लाल मिट्टी से बानी वानखेड़े की पिच पर अच्छा पेस और बाउंस मिलता है.

इस पिच में बल्लेबाजों और गेंदबाजों दोनों के लिए मदद है. जो भी टीम टॉस जीतेगी वह पहले गेंदबाजी करना चाहेगी क्योंकि ओस भी एक बड़ा फैक्टर रहेगा. ओस के कारण यहां लक्ष्य का पीछा करने वाली टीम को फायदा मिलेगा.

टीम इंडिया

टीम इंडिया की बल्लेबाजी और गेंदबाजी का काफी संतुलित है और सभी खिलाड़ी जीत में योगदान दे रहे हैं. विराट की कप्तानी वाली यह टीम एक यूनिट के रूप में बेहतरीन प्रदर्शन कर रही है.

न्यूजीलैंड के गेंदबाजों का सामना करने के लिए भारतीय टीम के पास शिखर धवन, रोहित शर्मा, विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी जैसे धुरंधर बल्लेबाज हैं.

यह देखना दिलचस्प होगा कि नंबर 4 पर कौन बल्लेबाजी के लिए आता है. हाल ही में टीम इंडिया ने मनीष पांडे और लोकेश राहुल को इस पोजीशन पर काफी मौके दिए, लेकिन यह दोनों ही कोई बड़ा कमाल नहीं कर पाए ऐसे में टीम मैनेजमेंट दिनेश कार्तिक को इस बैटिंग पोजीशन पर उतार सकती है.

न्यूजीलैंड के खिलाफ इंडिया-ए टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन करने वाले शार्दुल ठाकुर ने भी इस सीरीज के लिए भारतीय टीम में अपनी जगह बनाई. वह भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह के साथ तेज गेंदबाजी का मोर्चा संभालेंगे.

वहीं चाइनामैन कुलदीप यादव और लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल स्पिन आक्रमण का जिम्मा संभालेंगे इन दोनों का साथ देने के लिए बाए हाथ के स्पिनर अक्षर पटेल भी हैं.

चहल और कुलदीप ने ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों के लिए मैदान पर टिके रहना मुश्किल कर दिया था. अच्छी फॉर्म में चल रहे चहल और कुलदीप न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों के लिए भी मुश्किल खड़ी कर सकते हैं.

न्यूजीलैंड टीम

न्यूजीलैंड टीम की बात की जाए, तो उसके पास रॉस टेलर और कप्तान केन विलियमसन जैसे बल्लेबाज हैं. इसके अलावा, मार्टिन गप्टिल, टॉम लाथम और कोलिन मुनरो भी अच्छी फॉर्म में हैं.

पिछले अभ्यास मैच में लाथम और टेलर ने बोर्ड इलेवन के खिलाफ शानदार शतकीय पारियां खेली थीं. टेलर, लाथम और कप्तान केन विलियमसन पर कीवी टीम को बड़ा स्कोर देने की जिम्मेदारी होगी.

मेहमान टीम की गेंदबाजी का नेतृत्व तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट कर रहे हैं. इसमें टिम साउदी, एडम मिल्ने और मैट हेनरी भी शामिल हैं. हाल ही में रोहित शर्मा ने कहा कि न्यूजीलैंड की गेंदबाजी भारतीय बल्लेबाजों के लिए चुनौतीपूर्ण साबित हो सकती है.

न्यूजीलैंड के स्पिन गेंदबाजों में मिशेल सेंटनर और कोलिन डी ग्रैंडहोम जैसे खिलाड़ी शामिल हैं जो भारतीय बल्लेबाजों के लिए परेशानी खड़ी कर सकते हैं. इसमें कोलिन मुनरो भी टीम के लिए मददगार साबित हो सकते हैं.

दोनों टीमें:

भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, केदार जाधव, दिनेश कार्तिक, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव, मनीष पांडे, हार्दिक पंड्या, अक्षर पटेल, अजिंक्य रहाणे और शार्दुल ठाकुर.

न्यूजीलैंड : केन विलियमसन (कप्तान), मार्टिन गप्टिल, कोलिन डी ग्रैंडहोम, रॉस टेलर, ट्रैंट बोल्ट, मैट हेनरी, टॉम लाथम (विकेटकीपर), एडम मिल्ने, ईश सोढ़ी, केलिन मुनरो, हैनरी निकोल्स, ग्लेन फिलिप्स, मिशेल सेंटनर, टिम साउदी और जॉर्ज वॉर्कर

Summary
Review Date
Reviewed Item
IndvsNZ
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.