इंटरनेट के लिए टॉयलेट नहीं जाने चाहते Indians, क्या है पूरा माजरा

नई दिल्ली. इंटरनेट का तेजी से बढ़ता क्रेज और पिछले कुछ सालों में आए डिजिटल युग ने भारतीयों की आदत किस कदर बदल दी है, इसका प्रत्यक्ष उदाहरण एक सर्वे में सामने आया है.

इस सर्वे में दावा किया गया है कि इंटरनेट के लिए भारतीयों ने खाने-पीने, टॉयलेट जाने और नहाने तक से परहेज कर लिया. इंटरनेट की ये तलब इस कदर भारतीयों पर हावी है वो अपनी मूलभूत आवश्यकताओं को त्यागने तक को तैयार हैं.

इंटरनेट के लिए भारतीय क्या-क्या छोड़ सकते हैं

ओपेरा वुडस्टे ट्रैवल रिपोर्ट ने ट्रैवल करने वाले भारतीयों पर एक सर्वे किया है. सर्वे में लोगों से इंटरनेट के इस्तेमाल को लेकर सवाल पूछे गए. इसमें सामने आया कि लोगों ने टॉयलेट, खाना, शराब से ज्यादा इंटरनेट का इस्तेमाल किया है.

इंटरनेट के किसने क्या छोड़ा

इंटरनेट के लिए 34 फीसदी लोग शराब पीना छोड़ सकते हैं

29 फीसदी भारतीय 6 घंटे तक टॉयलेट जाए बिना रह सकते हैं

16 फीसदी भारतीय इंटरनेट के लिए नहाने को तैयार नहीं

14 फीसदी लोग पूरे दिन कुछ भी खाए बिना रह सकते हैं

नेटवर्क नहीं होने का डर

भारतीयों के बीच ट्रैवलिंग के दौरान मोबाइल नेटवर्क ना होने का डर रहता है, सर्वे में 34 फीसदी लोगों ने माना कि ट्रेवलिंग के दौरान मोबाइल नेटवर्क नहीं होना चिंताब की बात है. वहीं, 24 फीसदी लोग ट्रैवल पर होने वाले खर्च के बारे में सोचते हैं.

गर्लफ्रेंड के ज्यादा जरूरी इंटरनेट

इंटरनेट के लिए लोग बॉयफ्रेंड और गर्लफ्रेंड तक को छोड़ना पसंद करेंगे. 20 फीसदी लोग ट्रेवलिंग के दौरान फोन और इंटरनेट को ज्यादा जरूरी मानते हैं. वहीं, 11 फीसदी गर्लफ्रेंड के साथ टाइम स्पेंड करना चाहते हैं और 17 फीसदी लोग बॉयफ्रेंड के साथ ट्रैवलिंग करना चाहते हैं.

28 फीसदी लोगों को ट्रैवलिंग के दौरान सोशल मीडिया पर अपडेट रहना पसंद है

सोशल मीडिया के लिए इंटरनेट का इस्तेमाल

32 फीसदी लोग इंटरनेट का इस्तेमाल सोशल मीडिया पर अपडेट रहने के लिए करते हैं.

28 फीसदी लोग जानकारी जुटाने के लिए इंटरनेट इस्तेमाल करते हैं.

17 फीसदी जीपीएस का इस्तेमाल करते हैं.

advt

Back to top button