नायब तहसीलदार ने मांगा पानी,चपरासी ने तेजाब पिलाया

कानपुर के कन्नौज में नायब तहसीलदार ने चपरासी से पीने के लिए पानी मांगा तो उसने बोतल में रखा तेजाब गिलास में डालकर पकड़ा दिया। तेजाब पीते ही उनकी हालत बिगड़ गई। आननफानन में नायब तहसीलदार को राजकीय मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया, जहां से डॉक्टरों ने उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया।

तहसील परिसर में मंगलवार को तहसील दिवस का आयोजन किया गया था। नायब तहसीलदार रामकरन वर्मा वहां से अपने कार्यालय पहुंचे और चपरासी से पानी मांगा। चपरासी ने अलमारी में रखी बोतल से तेजाब गिलास में डालकर पकड़ा दिया। नायब तहसीलदार ने बिना देखे पी लिया। तेजाब पीते ही उनकी हालत बिगड़ने लगी।

कुछ ही देर में पेट की जलन बर्दाश्त से बाहर हो गई। इस पर तहसील कर्मी उनको लेकर राजकीय मेडिकल कॉलेज पहुंचे। जानकारी मिलने पर मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. डीएस मार्तोलिया और मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. दिलीप सिंह ने उपचार शुरू कराया। एसडीएम शालिनी प्रभाकर भी अस्पताल पहुंच गईं। उन्होंने डॉक्टरों से बात की, जिसके बाद नायब तहसीलदार को केजीएमयू, लखनऊ भेजने का निर्णय लिया गया।

लापरवाही के आरोप में चपरासी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। पूछताछ के दौरान चपरासी ने बताया कि अलमारी में एक ही रंग की पानी की दो बोतलों में पानी और तेजाब रखा था। गलती से पानी की बजाय तेजाब वाली बोतल हाथ में आ गई।

Back to top button