जहां CM नीतीश पर हुई थी पत्थरबाजी, वहीं तेजस्वी पर बरसाए गए फूल

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव शनिवार को बक्सर में नंदन गांव के दौरे पर गए थे. यह वही गांव है, जहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से नाराज महादलित समाज के लोगों ने पथराव किया था.

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव शनिवार को बक्सर में नंदन गांव के दौरे पर गए थे. यह वही गांव है, जहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से नाराज महादलित समाज के लोगों ने पथराव किया था.

आरजेडी ने आरोप लगाया था कि नीतीश कुमार के ऊपर हमला करने वाले इन महादलित परिवारों को उनके जाने के बाद से पुलिसिया कहर का सामना करना पड़ रहा है और उन्हीं का दर्द बांटने के लिए तेजस्वी यादव नंदन गांव पहुंचे थे.

तेजस्वी पर फूलों की बारिश

दिलचस्प बात यह रही कि तेजस्वी यादव जब नंदन गांव पहुंचे तो वहां के दलित परिवार के लोगों ने उनका स्वागत फूल बरसा कर किया.

आरजेडी ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से तेजस्वी की तस्वीरें शेयर करते हुए कहा कि नंदन गांव में जो मुख्यमंत्री पर पत्थर बरस रहे थे वहीं तेजस्वी पर फूल बरस रहे हैं.

बिहार में एक तरफ मुख्यमंत्री नीतीश पर पत्थर बरस रहे है तो वही दूसरी तरफ विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव पर फूल।

‘ग्रीन कारपेट पॉलिटिक्स करे रहे तेजस्वी’

तेजस्वी पर फूल क्या बरसे जदयू तिलमिला गई. जदयू ने तेजस्वी यादव पर हमला करते हुए कहा कि भाड़े के लोगों से अपने ऊपर फूल बरसाकर तेजस्वी ने ग्रीन कारपेट पॉलिटिक्स की शुरुआत कर दी है.

पार्टी प्रवक्ता संजय सिंह ने ट्विटर के जरिए कहा कि तेजस्वी की राजनीति का असली चेहरा सामने आ चुका है क्योंकि वह नंदन गांव गए थे, वहां के महादलित परिवारों को सांत्वना देने मगर वहां पर उन्होंने भाड़े के लोगों से अपने ऊपर फूल बरसवाए.

संजय सिंह ने तेजस्वी पर तंज कसते हुए कहा कि ग्रीन कारपेट पॉलिटिक्स में अब उनकी एंट्री हो चुकी है. जदयू प्रवक्ता ने आगे कहा कि तेजस्वी को वैसे भी बिहार की जनता अनुकंपा के नेता के तौर पर ही देखती है.

‘बेनामी संपत्ति पर जवाब दें तेजस्वी’

जदयू ने कहा कि ट्विटर पर निगेटिव पॉलिटिक्स को बढ़ावा देने में तेजस्वी यादव अब नंबर वन हो गए हैं और साथ ही इनके सलाहकार इनको टेबल पॉलिटिक्स में माहिर बना रहे हैं. संजय सिंह ने कहा कि तेजस्वी राजनीति में अनैतिकता के रोल मॉडल बन चुके हैं.

तेजस्वी के ऊपर चल रही बेनामी संपत्ति अर्जित करने के मामले को लेकर संजय सिंह ने कहा कि तेजस्वी अपने बेनामी संपत्ति को बचाने के लिए रोज नए प्रपंच कर रहे हैं.

जदयू प्रवक्ता ने कहा कि लालू परिवार के सामाजिक न्याय के ढकोसले से जनता ऊब चुकी है और वह अब हिसाब चाहती है कि आखिर लालू परिवार ने इतनी अकूत संपत्ति कैसे जमा की?

संजय सिंह ने कहा कि तेजस्वी यादव को पहले इस सवाल का जवाब देना चाहिए और अपना मुंह इस मुद्दे पर खोलना चाहिए.

advt
Back to top button