बिहारराज्य

तेजस्वी ने नीतीश पर दागे सवाल, सुविधानुसार ही क्यों जगती है अंतरात्मा?

congress cg advertisement congress cg advertisement

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर एकबार फिर हमला बोला है. तेजस्वी ने नीतीश से पर सवाल दागा है कि आखिर क्यों उनकी अंतरात्मा सुविधानुसार जागती और सोती है?

तेजस्वी ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह की कंपनी को लेकर चल रहे विवाद को संबंध में नीतीश पर 10 सवाल दागे हैं.

1:- जिस पार्टी के साथ गठबंधन में नीतीश की अंतरात्मा ने शरण ली, उसके राष्ट्रीय अध्यक्ष के बेटे पर इतनी बड़ी धांधली के आरोप के बाद नीतीश कुमार जी चुप कैसे बैठे हैं? अब इनकी अंतरात्मा सुप्तावस्था में क्यों चली गई है?

2:- क्या नीतीश मोदी सरकार में 50 हजार रुपये की कम्पनी के रातों रात 80 करोड़ की कम्पनी बन जाने का अर्थशास्त्र समझाएंगे? क्या नीतीश जी भ्रष्टाचार का लड्डू खाने बीजेपी के साथ रातों-रात भागे हैं?

3:- सुशील मोदी GST काउंसिल के अध्यक्ष बने बैठे हैं और इतने महत्व के पद पर बैठकर अपने भाई के काले कारनामों को पूरी शह और संरक्षण दे रहे हैं. क्या यह भ्रष्टाचार नीतीश जी को नहीं दिखता?

4:- सुशील मोदी ने अपने भाई को शेल कम्पनियों में काला धन निवेश करने की ट्रेनिंग दी है. क्या मुख्यमंत्री नीतीश जी अपने परम मित्र सुशील मोदी से काले धन की एंट्री का प्रशिक्षण ले रहे हैं?

5:- नीतीश कुमार जरा बिहार की जनता को समझाएं कि सुशील मोदी के भाई की कम्पनी ने कैसे हजारों करोड़ की एंट्री घुमाई है? नीतीश जी बताएं कि सुशील मोदी पर 120B और 420 सहित अनेक संगीन मामले क्यों दर्ज हैं?

6:- नीतीश बताएं कि सांप्रदायिकता और आरएसएस जैसी विघटनकारी ताकतों को पालना ही उनका छद्म समाजवाद है क्या?

7:- देश जानना चाहता है नीतीश जी की विचारधारा और सिद्धांत क्या है? उनके मुंह से सिद्धांत और विचार की बात घोर बेईमानी है. जिस व्यक्ति ने कुर्सी के लिए हर घाट का पानी पीया हो, वह सिद्धांत की बात करे यह हास्यास्पद है.

8:- नीतीश जी बताएं वह कुर्सीवादी हैं या दक्षिणपंथी हैं?

9:- नीतीश जी अहंकारवश बोल रहे हैं. ज्यादा अभिमान है तो अपनी ही सरकारी एजेन्सी से सर्वे करवा लीजिए. जनता बता देगी जनादेश का डकैत कौन है?

10:- क्या नीतीश जी में हिम्मत है कि वह बीजेपी के भ्रष्टाचार पर मुंह खोल सकें?

Summary
Review Date
Reviewed Item
तेजस्वी यादव
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.