तेलंगाना चुनाव: अमित शाह का आरोप, ‘शहरी नक्सलियों की समर्थक है कांग्रेस’

हैदराबाद।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार को कांग्रेस पर शहरी नक्सलियों के समर्थन का आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी पार्टी अगर तेलंगाना में सत्ता में आई तो माओवादियों को जेल भेजा जाएगा। शहरों में रहकर कथित तौर पर नक्सलियों का समर्थन करने वालों के लिये अर्बन नक्सल (शहरी नक्सल) शब्द का इस्तेमाल किया जाता है। ये लोग गैरकानूनी माओवादी संगठनों के लिए कथित रूप से मुखौटों के तौर पर काम करते हैं।

निर्मल जिले में एक जनसभा को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, हाल में उन्हें (नक्सल समर्थकों को) महाराष्ट्र से गिरफ्तार किया गया। देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार ने उन्हें सलाखों के पीछे डाला, लेकिन राहुल गांधी ने उनका समर्थन किया। उन्होंने पूछा, राहुल बाबा, क्या आपको पता है कि तेलंगाना में सैकड़ों लोगों की मौत नक्सलवाद की वजह से हुई।

बीजेपी प्रमुख ने दावा किया कि माओवादी राज्य के अलग-अलग हिस्सों में छिपे हुए हैं और उनकी पार्टी इन्हें तलाश कर उन्हें जेल भेजेगी। शाह ने कहा, उनके पास सिर्फ दो विकल्प हैं- या तो मुख्य धारा में शामिल हों या जेल जाने के लिये तैयार रहें।

शाह ने तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के प्रमुख और कार्यवाहक मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव पर भी अल्पसंख्यकों के लिये आरक्षण मांगने पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि राव के नेतृत्व वाली तेलंगाना सरकार ने केंद्र को एक प्रस्ताव भेजकर अल्पसंख्यकों के लिये 12 फीसदी आरक्षण की मांग की थी जबकि वह जानते हैं कि ऐसा करना संभव नहीं है।

शाह ने कहा, आप चिंता मत कीजिए। अगर केसीआर, कांग्रेस, टीडीपी और वामपंथी एक साथ भी आ जाएं तो भी मैं गारंटी देता हूं कि जब तक केंद्र में बीजेपी सरकार है तब तक धर्म आधारित आरक्षण नहीं दिया जाएगा। उन्होंने राव पर तेलंगाना राज्य के लिये हुए आंदोलन के दौरान जान देने वाले लोगों के परिजनों को रोजगार देने में विफल रहने का आरोप लगाया।

1
Back to top button