निरंकारी भवन में आतंकी हमले, एनआईए करेगी मामले की जांच

घटनास्थल पर पहुंची तीन सदस्यीय टीम

पंजाबः

अमृतसर के राजासांसी गांव में स्थित निरंकारी भवन में दो लोगों ने ग्रेनेड फेंका। जिसमें 3 की मौत हो गई और 10 लोग घायल हो गए। मिली जानकारी अनुसार, चश्मदीदों ने बताया कि दो हमलावर बाइक से आए थे और उन्होंने ग्रेनेड फेंका। जिस समय यह घटना घटी उस समय वहां पर धार्मिक कार्यक्रम चल रहा था।

इस तरफ सरकार ने पंजाब में हुए आतंकी हमले की जांच एनआईए को सौंप दी गई है। वहीं गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मामले में सख्त कार्रवाई करने को कहा है। पंजाब डीजीपी ने भी कहा है कि आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा। एनआईए की तीन सदस्यीय टीम आज अमृतसर में घटनास्थल पर पहुंच गई है और मामले की जांच में जुट गई है।

हाई अलर्ट के बावजूद राजासांसी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से कुछ दूरी पर स्थित गांव अदलीवाल स्थित निरंकारी भवन में रविवार सुबह आतंकी हमला हो गया। इसमें तीन लोगों की मौत हो गई और करीब 19 लोग घायल बताए जा रहे हैं।

वारदात को गर्म चादर लपेटे दो लोगों ने सवा 11.15 बजे उस समय अंजाम दिया, जब 200 लोग सत्संग कर रहे थे। घटना के बाद अफरा-तफरी मच गई।

डीजीपी ने घटना को आतंकी हमला करार दिया है। उन्होंने कहा कि हमला एक समाज के लोगों पर हुआ है और यह देश विरोधी लोगों की साजिश है। घटना के बाद एरिया में नाकेबंदी कर चेकिंग शुरू कर दी गई।

शिक्षा मंत्री ओपी सोनी सूचना मिलते ही जालंधर में अपना सरकारी कार्यक्रम छोड़कर मौके पर पहुंचे। बाद में डीजीपी सुरेश अरोड़ा, डीजीपी दिनकरल गुप्ता, डीजीपी हरदीप सिंह ढिल्लों समेत तमाम पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे।

1
Back to top button