CRPF के ट्रेनिंग सेंटर पर आतंकी हमला 5 जवान शहीद ,2 आतंकिया ढेर

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के एक शिविर पर भारी हथियारों से लैस आतंकवादियों ने आज फिदायीन हमला किया

CRPF के ट्रेनिंग सेंटर पर आतंकी हमला 5 जवान शहीद ,2 आतंकिया ढेर

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के एक शिविर पर भारी हथियारों से लैस आतंकवादियों ने आज फिदायीन हमला किया।

इस आतंकी हमले में अब तक 5 जवान शहीद हो गए और 2 अन्य घायल हुए हैं। वहीं सेना के हाथ बड़ी कामयाबी लगी है। सेना ने जैश के 2 आतंकियों को ढेर कर दिया। आतंकवादियों ने आज तड़के करीब दो बजे अवंतीपुरा में स्थित केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 185वीं बटालियन के शिविर पर हमला कर दिया।

ग्रेनेड लांचर और स्वचालित हथियारों से थे लैस

सीआरपीएफ के अधिकारियों ने बताया, ‘‘रात करीब 2 बजे दो सशस्त्र आतंकवादी शिविर में घुस आए। वे अंडर बैरल ग्रेनेड लांचर और स्वचालित हथियारों से लैस थे। उन्होंने शिविर में मौजूद संतरियों को चुनौती दी।’’ फिलहाल सेना का सर्च ऑप्रेशन जारी है। जहां आतंकी छिपे थे, वो चार मंजिला इमारत है।

बताया जा रहा है कि आतंकी बिल्डिंग के चौथे माले पर मौजूद हैं और यहीं से फायरिंग कर रहे हैं। इस बिल्डिंग में सीआरपीएफ सेंटर का एडमिनिस्ट्रेटिव ब्लॉक है, जहां कंट्रोल रूम भी है। वहीं, सैन्य अधिकारियों का कहना है कि अभी सर्च ऑपरेशन जारी है।

जैश-ए-मोहम्मद ने ली हमले की जिम्मेदारी

मीडिया को Whatsapp मेसेज भेजकर जैश-ए-मोहम्मद ने हमले की जिम्मेदारी ली। आतंकी संगठन का कहना है कि यह फिदायिन हमला उनके आतंकी कमांडर नूर त्राली की मौत का बदला लेने के लिए किया गया है।

गौरतलब है कि साल 2016 में जैश-ए-मोहम्मद ने ही पठानकोट एयरबेस पर नए साल के जश्न के बीच ही हमला किया था। तब 1 जनवरी की रात हुए इस हमले में 7 सैनिक शहीद हो गए थे।

उस समय मुठभेड़ 80 घंटे तक चली थी। बताया जा रहा है कि यह अचानक किए गए सबसे खतकनाक हमलों में से है। रविवार दोपहर तक दोनों ओर से गोलीबारी होती रही, जिसके बाद सेना को सफलता मिली।

advt
Back to top button