छत्तीसगढ़

2019 का चुनावी समीकरण हुआ पेचीदा, 6 वार्डो पर लगाये जा रहे आंकड़े….!

अरविंद शर्मा:

कटघोरा: मतदान की तिथि नजदीक आने में महज कुछ ही दिनों का फासला रह गया है और प्रत्याशियों के चेहरों पर झुर्रियां साफ नजर आने लगी हैं।अप्रत्यक्ष रूप से हो रहे चुनाव में प्रमुख़ दलों के प्रत्याशियों ने पुरजोर तरीके से जनसंपर्क का सिलसिला चलाकर लुभावने मुद्दों से मतदाताओं का ध्यान आकर्षित करने का भरसक प्रयास कर रहे हैं।

वार्ड 1, 4, 5, 6, 8 व वार्ड 9 में सबसे घमासान स्थिति

कटघोरा नगर पालिका के 15 वार्डो में से वार्ड 1,4,5 ,6,8 व वार्ड 9 में सबसे घमासान स्थिति बनी हुई है यहाँ के चुनावी समीकरण पर कुछ भी कह पाना आसान नही होगा।सभी प्रत्याशी दमदार हैं और लगाए जा रहे आकड़ो पर भारी पड़ रहे हैं। वैसे वार्ड 9 तिलक नगर पर सबसे ज्यादा लोगो की निगाहें गड़ी हुई हैं।

यहाँ से चुनावी मैदान में भाजपा प्रत्यासी पवन अग्रवाल व काँग्रेस से संजय अग्रवाल सीधे आमने सामने हैं। दोनो ही प्रत्याशियों के विषय मे कुछ भी कह कर अंदाजा लगाना इतना आसान नही होगा?

इसी प्रकार वार्ड 6 में भी समीकरण समझ से परे है यहाँ भाजपा से मुरली साहू कांग्रेस से राज जायसवाल के बीच भाजपा से बागी हुई निर्दलीय प्रत्यासी राधिका डिकसेना दोनो का मिजाज बिगाड़ सकती हैं।वार्ड 4 की बात करे तो कांग्रेस से पुष्पा कौशिक और भाजपा से अर्चना अग्रवाल के बीच सीधा मुकाबला रहेगा।

इन सबके बीच अगर बात करे वार्ड 1 की तो यहाँ का समीकरण देखकर आंखे झपकी तक नही लेंगी यहाँ भाजपा व कांग्रेस के प्रत्यासियो को गोंगपा के प्रत्यासी शरद गोपाल देवांगन ने मुकाबला बेहद पेचीदा कर दिया है।इनकी चर्चा आज सभी के जुबान पर छाई हुई।

वार्ड 8 में राष्ट्रीय दलों के प्रत्यासियो पर निर्दलीय प्रत्यासी भारी

वार्ड 8 में राष्ट्रीय दलों के प्रत्यासियो पर निर्दलीय प्रत्यासी भारी पड़ सकती है यहाँ राजकुमारी साहू को वार्ड की जनता का भरपूर समर्थन मिल सकता है।जब वार्ड 5 की बात आती है तो हर कोई बेतहासा तरीके से कह देता है यहाँ तो कांग्रेस से रतन मित्तल ही ……चुनाव जीतेंगे।

इनकी इस कदर बढ़ी लोकप्रियता के पीछे इनके चाहने वालो की बड़ी तादात है और कांग्रेस पार्टी से पुराना नाता होने के साथ राजनीति के चाणक्य भी माने जाते हैं।

बाकी शेष वार्डो में भी तस्वीरे कुछ साफ नही है। सभी प्रत्यासी अपनी विजय पाने के लिए भरसक प्रयास कर रहे हैं।मतदाता भी अपने मतदान का इंतजार कर रहे हैं इस चुनाव में प्रत्याशियों की तादाद को देख लगता है कुछ तो ऐतिहासिक होने वाला है।

Tags
Back to top button