छत्तीसगढ़

फरार इनामी सेठ आखिर लग ही गया पुलिस के हत्थे

ब्यूरो चीफ : विपुल मिश्रा

बिलासपुर//- तारबाहर क्षेत्र के विनायक हाइट्स में फ्लैट दिलाने के नाम पर दो लोगों से धोखाधड़ी करने के मामले में पुलिस ने आरोपित बिल्डर को नोएडा से गिरफ्तार किया है,पुलिस ने आरोपित के कब्जे से जाइलो कार बरामद की है,वही उससे पूछताछ कर रही है,बताया जा रहा है कि मामले में शामिल आरोपित की पत्नी अब भी फरार है,जिसकी पतासाजी की जा रही है..

मालूम हो कि तारबाहर क्षेत्र के विनायक हाइट्स में फ्लैट दिलाने के नाम पर बिल्डर राजेश सेठ व उनकी पत्नी रजनी सेठ ने शीतला प्रसाद त्रिपाठी और विघ्नेश्वर प्रसाद से 40 लाख की धोखाधड़ी की थी,पीड़ितों ने इसकी शिकायत तारबाहर थाने में की,जिसपर मामला दर्ज कर पुलिस जांच कर रही थी,इस बीच आरोपित राजेश सेठ व उनकी पत्नी रजनी सेठ फरार हो गए।

वही जांच के दौरान पता चला कि आरोपित अलग-अलग जगहों पर अपना ठिकाना बदल रहा है,इसी बीच जानकारी मिली कि आरोपित नोएडा के गौर सिटी में छिपा हुआ है,इस पर साइबर सेल की टीम को आरोपित को पकड़ने दिल्ली भेजा गया,जहां पहुँचने के बाद पुलिस ने लगातार 72 घँटे रैकी कर अंततः फरार आरोपित को पकड़ने में सफलता प्राप्त की, पूछताछ में आरोपी ने बताया कि एफआईआर के बाद से ही वह फरार हो गया था,और साथ ही पुलिस से बचने हर 15 दिनों में वेश भूषा बदल कर स्थान बदल देता था, 5 हजार रुपये का इनामी था गिरफ्तार आरोपित…

मालूम हो कि फरार आरोपित काफी समय से फरार था,जिसे काफी खोजबीन के बाद भी पता नही चलने पर कुछ समय पूर्व पुलिस कप्तान प्रशांत अग्रवाल ने फरार आरोपित राजेश सेठ व उनकी पत्नी रजनी सेठ का पता बताने वाले को 05-05 हजार रुपये का नगद पुरुष्कार की घोषणा भी की थी …

उक्त सम्पूर्ण कार्यवाही में साइबर सेल प्रभारी निरीक्षक कलीम खान,थाना प्रभारी तारबाहर प्रदीप आर्य, उप निरीक्षक प्रभाकर तिवारी उप निरीक्षक पी आर साहू,उप निरीक्षक मनोज नायक,उप निरीक्षक उमेश उपाध्याय,प्रधान आरक्षक नवीन दुबे,भागवत सिदार,आरक्षक प्रफुल कुमार लाल,संदीप दुबे,मुरलीधर भार्गव,मालिक राम साहू का विशेष योगदान रहा..

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button