छत्तीसगढ़

उद्यम का क्षेत्र केवल अमीरों के लिए नहीं, आपको प्रतिभा दिखाने का पूरा अवसर

उद्यम के क्षेत्र में बिहान से जुड़ी महिलाओं की सफलता शानदार है। अब आपने ब्लॉक लेवल संगठन बना लिया है जिसके माध्यम से आप बैंक से एक करोड़ रुपए तक लिंकेज प्राप्त कर सकते हैं।

उद्यम का क्षेत्र केवल अमीरों के लिए नहीं, आपको प्रतिभा दिखाने का पूरा अवसर

जिले के पहले ब्लॉक लेवल संगठन का उद्घाटन गठुला में

राजनांदगांव : उद्यम के क्षेत्र में बिहान से जुड़ी महिलाओं की सफलता शानदार है। अब आपने ब्लॉक लेवल संगठन बना लिया है जिसके माध्यम से आप बैंक से एक करोड़ रुपए तक लिंकेज प्राप्त कर सकते हैं। यह आगे बढऩे का अच्छा अवसर है। आपके पास प्रतिभा है आपने अपनी उद्यमशीलता साबित की है। अब बड़े उद्यम के लिए आगे बढिय़े।

आप पेट्रोल पंप भी खोल सकते हैं और किसी कंपनी का शोरूम भी। उद्यमशीलता केवल अमीरों के लिए नहीं है। आगे बढिय़े और इसे साबित कीजिए। यह बात कलेक्टर श्री भीम सिंह ने जिले में बिहान के पहले ब्लॉक लेवल संगठन के उद्घाटन के अवसर पर कही। इसमें 22000 महिलाएं जुड़ी हुई हैं और अब तक बैंक से चालीस करोड़ रुपए तक का कारोबार कर चुकी हैं। कलेक्टर ने कहा कि संगठन में शक्ति है। महिलाओं में जबर्दस्त उद्यमशीलता है और वे इसे साबित कर चुकी हैं।

अब यह समय आ गया है कि अपने कार्य को विस्तारित करें। उन्होंने आंध्रप्रदेश मॉडल के बारे में महिलाओं को बताते हुए कहा कि आजीविका मिशन के बजट का आधा कार्य आंध्रप्रदेश की महिलाएं करती हैं। उन्होंने ऐसे-ऐसे कारोबार में कदम रखा है जिनके बारे में सोच पाना भी मुश्किल होता है। आप लोगों का उत्साह देखकर लगता है कि आप भी इसी दिशा में आगे बढ़ेंगी। कलेक्टर ने कहा कि संगठन में बड़ी शक्ति है। आज आपने ब्लॉक लेवल समूह बना लिया है।

इससे आपकी वित्तीय शक्ति भी बढ़ गई है। आप लगातार प्रशिक्षण लीजिए, अपने अनुभवों को समृद्ध कीजिए। आप कोई भी उद्यम करेंगी, उसमें पीछे नहीं रहेंगी। इस मौके पर कलेक्टर ने विभिन्न समूहों द्वारा बनाई गई वस्तुओं का भी निरीक्षण किया। इनमें से कई महिलाओं ने लोकल व्यंजन तैयार किए थे। कुछ महिलाओं ने तो जैविक तरीके से सब्जी उगाई थी। कलेक्टर ने सभी को आश्वस्त किया कि जिला प्रशासन उद्यमशीलता को आगे बढ़ाने के लिए हर संभव मदद देने तैयार है। इस अवसर पर कलेक्टर श्री भीम सिंह ने ग्राम कठुला के कोटवार श्री अवधराम साहू का सम्मान भी किया।

महिला समूहों से रिकवरी का दर 99.10 प्रतिशत-

इस मौके पर जिला पंचायत सीईओ श्री चंदन कुमार ने कहा कि अब तो बैंक भी महिलाओं की उद्यमशीलता का लोहा मान चुके हैं। यहां महिला समूहों से रिकवरी का दर 99.10 प्रतिशत है। इससे पता चलता है कि महिलाएं पैसे का प्रबंधन बेहतर तरीके से करती हैं। उनका वित्तीय प्रबंधन तो बेमिसाल है ही, उद्यमशीलता के ऐसे क्षेत्रों में उन्होंने कदम रखा है जिससे हैरत होती है। उन्होंने कहा कि अब आपकी संगठन शक्ति बढ़ गई है।

आपने ब्लॉक लेवल संगठन बना लिया है तो अब उद्यमशीलता के क्षेत्र में भी बड़ा कदम उठाइये। आपको अब पेट्रोल पंप, किसी आटोमोबाइल कंपनी का शो रूप या इसी तरह का कोई भी उद्यम चुनना चाहिए। आपकी संगठन क्षमता, ईमानदारी और काम के प्रति आपकी लगन आपको इस दिशा में सफल ल बना देगी।

Tags
Back to top button