मेले में पहले ही दिन विदेशी सैलानियों का आगमन, फ्रांस से 9 सदस्यीय दल पहुंचे राजिम

दीपक वर्मा राजिम:

राजिम: धर्म , आस्था और अध्यात्म की नगरी छत्तीसगढ़ की प्रयाग नगरी राजिम पुरे प्रदेश ही नहीं अपितु विश्व में एक नई पहचान दिलाता है। राजिम पुन्नी मेला के अवसर पर प्रथम दिवस आज फ्रांस के विदेशी दर्शनार्थियों का आना भी प्रारंभ हो चुका है,

रायपुर एयरपोर्ट से सीधे छत्तीसगढ़ की प्रयाग धरा राजिम में सर्वप्रथम इन विदेशी दर्शनार्थियों को राजिम पुन्नी मेला का पता चलते ही वे अपने गाइड को यहां जाने के लिए निर्देशित किए तत्पश्चात यहां राजिम पहुंचकर राजिम त्रिवेणी संगम सहित मंदिरों एवं साधु संतो के दर्शन कर रहे हैं।

सैलानी इस तरह नदी के मध्य में विशाल मेला और यहां की समृद्ध संस्कृति को देखकरबहुत ही अच्छा लगा। वे बहुत ही उत्साहित है। साथ ही नदी के मध्य में स्थित श्री राजीव लोचन एवं कुलेश्वर नाथ जी के मंदिर नदी के मध्य में स्थित होने से अचंभित हुए । इस अवसर पर फ्रांस से आए विदेशी दर्शनार्थियों ने राजिम मेला का लुफ्त उठाया

l वे घूम घूमकर मेला का आनन्द लेते रहे । दल में मार्शल, जूलिया और मिशेल नेतृत्व कर रहे थे । अभी वे यहाँ 4 दिन रहकर आसपास के ऐतिहासिक और पर्यटन स्थलों का अवलोकन करेंगे।

Tags
Back to top button