पुलवामा में हुए आतंकी हमले को लेकर सीतापुर में शोक का माहौल

रोशन सोनी:

सीतापुर: जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमलें में सीआरपीएफ के 37 से भी ज्यादा जवान हो शहीद हो गए। आतंकियों ने सीआरपीएफ के काफिले में अचानक हमला बोल दिया। जिससे कई जवान शहीद हो गए और कई घायल भी हो गए। यह काफी बड़ा हमला रहा जिसे सुनकर लोगों में शोक का लहर काफी तेजी से दौड़ उठी।

शहीद जवानों को सीतापुर के लोगों ने किया श्रद्धा सुमन अर्पित

आज पूरा भारत शोक के लहर में डूबा है, इसके साथ ही आज सीतापुर भी शोक के लहर में डूबा हुआ है। इस घटना में हुए शहीद जवानों को सीतापुर के लोगों ने श्रद्धा सुमन अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की और उनके याद में 2 मिनट का मौन भी धारण किया।

सीतापुर के नागरिकों ने इस घटना में हुए शहीद जवानों के परिवार को संबल प्रदान करने हेतु ईश्वर से प्रार्थना की और उनके याद में गुरुवार सायंकालीन सीतापुर के शहीद भगत सिंह चौक और जयस्तम्भ चौक में कैंडल जलाकर वीर जवानों को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

शोक कैंडल मार्च में सीतापुर के कई नागरिक हुए शामिल

सीतापुर के साथ-साथ छत्तीसगढ़ प्रदेश सहित पूरे भारत देश में शोक की लहर दौड़ उठी है। इस हमलें को लेकर अब छत्तीसगढ़ के नक्सल क्षेत्र में भी पुलिसकर्मियों के द्वारा हाई अलर्ट भी जारी कर दिया गया है। आज के इस शोक कैंडल मार्च में सीतापुर के कई नागरिक सहित विवेकानंद युवा क्रांति की टीम और माँ गायत्री कोचिंग इंस्टिट्यूट की टीम सहित अन्य लोगों ने इस शोक में अपनी श्रद्धांजलि एक साथ मिलकर अर्पित की।

नागरिकों ने सीतापुर के शहीद भगत सिंह चौक और जयस्तम्भ चौक में कैंडल जलाकर अपनी श्रद्धांजलि वीर जवानों को अर्पित की। सीतापुर के नागरिकों सहित देशवासियों की मांग है कि सरकार को जल्द से जल्द पाकिस्तान को अच्छा सबक सिखाने के लिए कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए।

देशवासियों की इसी भावना को समझते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस क्रूर घटना के बाद पूरे देश का खून खौल रहा है। शहीदों के खून की एक एक बूंद की कीमत आतंकवादियों को चुकानी पड़ेगी। उन्होंने कहा कि सुरक्षा बलों को पूरी छूट दे दी गई। दुुनिया के कई देशों ने आतंकवादियों के इस जघन्य कांड की निंदा की है और भारत को भरोसा दिलाया है कि आतंकवाद से संघर्ष में वे साथ हैं।

इस मौके पर देश के विपक्षी दलों ने भी सरकार का साथ देने का वादा किया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पुलवामा हमले की निंदा करते हुए कहा है कि हम सुरक्षा बलो और सरकार के साथ है।

Back to top button