देश का संतुलित विकास महिला और पुरुष दोनों के समानांतर विकास से संभव : मंजू जायसवाल

अरविंद शर्मा

कटघोरा।

देश का संतुलित विकास महिला और पुरुष दोनों के समानांतर विकास से संभव होगा इसलिए जब मैं महिला सासक्ती कारण की बात करती हूं तो पुरुषों से प्रथम अपेक्षा करती हूं तो पुरुष इसमें सहयोगी और सहभागी बने । उस शिक्षा में अध्ययन रत युवा साथी सक्रत्मक सोच और सक्रतमक कार्य करें ।

उक्त उद्गार समाज सेवी मंजू जायसवाल कटघोरा ने जय बूढ़ा देव कला एवं विज्ञान महाविद्यालय कटघोरा में आयोजित सतत व्याख्यान माला में मुख्य अतिथि के आसंदी से व्यक्ति किया । कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे प्रोफेसर प्यारे लाल आदिले ने संस्कार पर जोर देते हुए। युवाओं को आह्वाहन किया ।

विशिष्ट अतिथि आदर्श शर्मा सचिव आदर्श सामाजिक समिति कटघोरा ने अपने वक्तयव में कहा कि महिलाओं के लिए हर एक क्षेत्रों में पर्याप्त अवसर हैं केवल उन्हें मेहनत करते हुए । अवसर को पहचान कर आगे बढ़ना है और यह तब संभव होगा जब महिला अपने शिक्षा और योग्यता को बढ़ाएंगे ।

इस अवसर पर महाविद्यालय के प्रधयापक प्रोफेसर किशोर दिवाकर प्रोफेसर सी एस रत्रे प्रोफेसर ताहिरा खान प्रोफेसर लक्ष्मी सिंह प्रोफेसर सूर्या गर्ग प्रोफेसर ज्योति अनंत खगेन्द्र यादव योगेश बघेल एवं अंकिता ने अपना विचार व्यक्त किया । कार्यक्रम का संचालन विकास यादव ने किया। अतिथियों का आभार ज्ञापन कुमारी सरस्वती बिंझवार सर्भवन कामेश्वरि हर्षिता ने किया ।

1
Back to top button