राजस्थान में केवट समाज ने एसटी वर्ग में आरक्षण के लिए किया प्रदर्शन

राजस्थान का कहार, केवट, भोई और कश्यप समाज भी अब अपने लिए यूपी व मध्यप्रदेश की तर्ज पर एसटी वर्ग में आरक्षण व केवट बोर्ड के गठन की मांग को लेकर सामने आया है

राजस्थान में केवट समाज ने एसटी वर्ग में आरक्षण के लिए किया प्रदर्शन

राजस्थान का कहार, केवट, भोई और कश्यप समाज भी अब अपने लिए यूपी व मध्यप्रदेश की तर्ज पर एसटी वर्ग में आरक्षण व केवट बोर्ड के गठन की मांग को लेकर सामने आया है. सोमवार को झालावाड़ में कहार आरक्षण संघर्ष समिति के प्रदेश संयोजक उमाशंकर कहार के नेतृत्व मे हाडौती संभाग के सैकड़ों लोगों ने अपनी मांगो को लेकर शहर मे पैदल मार्च निकाला व बाद मे मिनी सचिवालय स्थित जिला कलेक्ट्रेट पहुंचकर प्रदर्शन किया. इसके पहलें समाज की मांगो को लेकर झालावाड मे समाज की महापंचायत भी हुई.

कहार आरक्षण संघर्ष समिति के प्रदेश संयोजक उमा शंकर कहार के नेतृत्व में समाज के लोगों ने मिनी सचिवालय मे अतिरिक्त जिला कलेक्टर को प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन भी सौंपा. जिसमें उन्होंने कहा कि उनके समाज की राजस्थान मे 25 लाख से अधिक जनसंख्या है, जो कि काफी पिछडे व गरीब हैं.

समाज के उत्थान के लिए पिछली कांग्रेस सरकार के समय भी आन्दोलन किए गए थे, जिसमे समाज के लोग आज तक कानूनी कार्रवाई का सामना कर रहे हैं, कहार ने बताया कि विधानसभा चुनाव के समय सी एम राजे ने भी उनकी समस्याओं पर सहानूभूति पूर्वक विचार का आश्वासन दिया था, लेकिन आज तक सरकार की ओर से समाज के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाए गए हैं. इसीलिए समाज को मजबूर होकर आंदोलन पर मजबूर होना पड़ रहा है.

यदि सरकार ने उनकी मांगों पर जल्द ध्यान नहीं दिया तो समाज राजस्थान मे होने वाले उपचुनावो मे सरकार का जमकर विरोध करेगा .उनकी मांग है कि कहार केवट ,कीर ,भोई और कश्यप समुदाय को एसटी में आरक्षण दिया जाए,साथ ही समाज के उत्थान के लिए केवट बोर्ड का भी गठन किया जाए .

advt
Back to top button