राष्ट्रीय

रॉन्ग साइड से आ रही थी कार, ट्रैफिक पुलिस ने की रोकने की कोशिश, फिर ये हुआ!

इस पर युवक ने थोड़े आगे जाकर गाड़ी रोक दी। घटना का वीडियो सोशल साइट पर वायरल हो रहा है।

गलत साइड से आ रही एक कार को रोकने में ट्रैफिक पुलिस की जान पर बन आई। दरअसल कार चालक के पास गाड़ी के पेपर्स नहीं थे और वह नियमों को ताक पर रखकर बचकर निकल जाना चाहता था।

इस पर ट्रैफिक पुलिस ने कार चालक को रोकने की कोशिश की, लेकिन चालक ट्रैफिक पुलिसकर्मी को अनदेखा करते हुए आगे निकल गया।

इस दौरान ट्रैफिक पुलिस चालक की कार के बोनट पर लटक गया। इस पर युवक ने थोड़े आगे जाकर गाड़ी रोक दी। घटना का वीडियो सोशल साइट पर वायरल हो रहा है।

ट्रैफिक कांस्टेबल पर चढ़ा दी कार

यह घटना दिल्ली के गुरुग्राम इलाके की है। दरअसल हुआ यूं कि, यहां स्थित सिग्नेचर टॉवर चौक के पास ट्रैफिक पुलिस कुछ गाड़ियों की चेकिंग कर रही थी।

इसी दौरान ट्रैफिक नियम तोड़ता हुए एक कार चालक रॉन्ग साइड से आगे बढ़ा। रॉन्ग साइड से आती हुई कार को देखते हुए ट्रैफिक कांस्टेबल ने उसे रुकने का इशारा किया, लेकिन युवक नहीं माना।

युवक ने गुस्से में कार ट्रैफिक कांस्टेबल पर ही चढ़ा दी, इस दौरान ट्रैफिक कांस्टेबल ने खुदको बचाने के लिए कार के बोनट पर चढ़ गया।


लगभग सौ मीटर आगे जाकर युवक ने रोकी कार

गनीमत रही कि ट्रैफिक पुलिस कार का बोनट पकड़कर लटका रहा , वरना कोई बड़ा हादसा हो जाता। युवक ने लगभग सौ मीटर तक ट्रैफिक कांस्टेबल को घसीटा, इस दौरान अन्य ट्रैफिक पुलिस के जवानों ने कार चालक को रोक लिया।

घटना में ट्रैफिक कांस्टेबल को मामूली चोटें भी आई। पुलिस ने आरोपी कार चालक को गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि, इस तरह का यह कोई पहला मामला नहीं है।

इससे पहले भी कई बार खुलेआम लोग ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करते नजर आ चुके हैं।

युवक के पास नहीं थे गाड़ी के कागज

गाड़ी के कागजात मांगने पर युवक ने रौब दिखाते हुए ट्रैफिक पुलसकर्मियों से मारपीट की कोशिश की। इस दौरान ई- चालान मशीन को भी नुकसान पहुंचाया।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि सहायक उपनिरीक्षक महेंद्र (41) और उनके सहयोगी लाला राम ने 21 वर्षीय अक्षय को लाल बत्ती का उल्लंघन करने पर रोका था।

दोनों ने अक्षय से गाड़ी के कागज एवं ड्राइविंग लाईसेंस मांगे थे। लेकिन, अक्षय ने कागज देने से इनकार कर दिया और पुलिसकर्मियों से बहस की।

युवक ने कांस्टेबल लाला राम पर हाथ भी उठाया और उनकी ई- चालान मशीन को नुकसान पहुंचाया। इस दौरान अन्य पुलिसकर्मियों ने मौके पर पहुंचकर अक्षय को पकड़ लिया।

महेंद्र को अस्पताल ले जाया गया जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उसे घर भेज दिया गया।

Tags
Back to top button