मुख्यमंत्री ने की साहेब बंदगी, कहा-मेरा जन्म कबीरधाम में हुआ, यह मेरा सौभाग्य

- छत्तीसगढ़ की शांति, समृद्धि और सांप्रदायिक सद्भाव कबीर की देन

राजनांदगांव।

कबीर जयंती के अवसर पर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने साहेब बंदगी के साथ कोटराभाठा में अपने संबोधन की शुरूआत की। उन्होंने कहा कि आज कबीरदास जी की जयंती है। इस दिन उनका जन्म हुआ था। मुख्यमंत्री ने इसके बाद कहा कि जन्म नहीं कहना चाहिए, अवतरण उचित शब्द है क्योंकि महापुरुषों का अवतरण होता है।

पांच सौ वर्ष पहले कबीर ने पाखंड के विरुद्ध निडर होकर अपनी आवाज उठाई। उनके विचारों और व्यक्तित्व में ऐसा जादू था की कि आज देश विदेश में करोड़ों कबीरपंथी उनके विचारों को लेकर चल रहे हैं।

-छत्तीसगढ़ में कबीर का गहरा प्रभाव रहा है : सीएम

छत्तीसगढ़ में कबीर का गहरा प्रभाव रहा है। यहाँ की शांति, समृद्धि और सांप्रदायिक सद्भाव की परंपरा में कबीर के विचारों का बड़ा योगदान है। इन विचारों को लेकर चलता हुआ छत्तीसगढ़ प्रदेश आज विकास और शांति का टापू बना हुआ है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरे लिए बहुत सौभाग्य का विषय है कि मेरा जन्म एक ऐसे जिले में हुआ जिसका नाम ही कबीरदास जी के नाम पर है। मुख्यमंत्री ने कहा कि नादिया मठ कबीरपंथ के विचारों को आगे बढ़ाने में प्रभावी भूमिका निभा रहा है। उन्होंने मंगल साहब एवं प्रकाश दास साहब को तथा कबीरपंथ से जुड़े सभी लोगों की इस पुनीत कार्य के लिए प्रशंसा की।

-अगस्त में होगी विकास यात्रा, बंटेगे मोबाइल फोन

उन्होंने कहा कि स्काई योजना के अंतर्गत अगस्त में होने वाली विकास यात्रा में 55 लाख मोबाइल फोन प्रदेश में बांटे जाएंगे। स्मार्ट फोन के माध्यम से देश-दुनिया के साथ कदमताल करने एवं तकनीकी रूप से दक्ष होने में आम आदमी को सुविधा मिल सकेगी। तकनीक का जानकार होने से सभी हितग्राहियों के लिए बेहतर अवसर खुल सकेंगे।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर आयुष्मान भारत योजना की भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि अब गरीब परिवारों के लिए पाँच लाख रुपए तक के इलाज का रास्ता खुल गया है।

–कोटराभाठा पहुंचकर दी अनेक विकास कार्यों की सौगात

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह आज 28 जून को अपने विधानसभा क्षेत्र राजनांदगांव के जनसंपर्क अभियान के अंतर्गत ग्राम धामनसरा, मलपुरी, मुड़पार एवं कोटराभाठा में पहुंचकर ग्रामीणों को अनेक विकास कार्यों की सौगात दी है। इसके अंतर्गत उन्होंने ग्राम धामनसरा में वार्ड क्रमांक 18 एवं 15 वार्ड में गली कांक्रीटीकरण के 10 लाख रुपए, सीसी रोड निर्माण हेतु 8 करोड़ रुपए, सामुदायिक भवन निर्माण हेतु 19 लाख रुपए की स्वीकृति दी है।

-विद्युत पोल लगाने की घोषणा की

इसके अलावा चांदो डायवर्सन से धामनसरा के किसानों को सिंचाई सुविधा प्रदान करने हेतु नहर नाली के किनारे ट्रांसफार्मर एवं विद्युत पोल लगाने की घोषणा की। डॉ. रमन सिंह धामनसरा ने उद्यानिकी महाविद्यालय एवं पंडित किशोरी लाल कृषि महाविद्यालय के विद्यार्थियों को लैपटॉप भी वितरण किया। इसी तरह उन्होंने ग्राम मलपुरी में गोंडवाना सामुदायिक भवन परिसर में बाउण्ड्रीवाल कराने एवं वीरांगना दुर्गावती प्रतिमा हेतु 50 लाख रूपए स्वीकृत करने की घोषणा की।

ग्राम मुड़पार में प्रधानपाठक कक्ष हेतु 6 लाख रूपए, प्राथमिक शाला में आहता निर्माण एवं वार्ड क्रमांक 2, 12, 13 में सीसी रोड निर्माण करने की घोषणा की। इसके अलावा ग्राम कोटराभांठा में मुंडन संस्कार केन्द्र हेतु 4 लाख रूपए, सीसी रोड निर्माण हेतु 5 लाख रूपए, सिंचाई नहर में निर्मला घाट निर्माण हेतु 15 लाख रूपए तथा डबरी सौन्दर्यीकरण हेतु 8 लाख रूपए स्वीकृत करने की घोषणा की।

इस अवसर पर राज्य उर्दू अकादमी के अध्यक्ष अकरम कुरैशी, नागरिक आपूर्ति निगम के पूर्व अध्यक्ष लीलाराम भोजवानी, राजगामी संपदा न्यास के अध्यक्ष रमेश पटेल, गृह निर्माण मंडल के सदस्य नरेश डाकलिया, राजगामी संपदा न्यास के पूर्व अध्यक्ष संतोष अग्रवाल, जिला पंचायत सदस्य मधुसकृत साहू एवं हिरेन्द्र साहू, जनपद अध्यक्ष सरिता कन्नौजे, पूर्व मंडी उपाध्यक्ष कोमल सिंह राजपूत, लीलाधर साहू, ओजस दास,जनपद सदस्य योगेन्द्र वैष्णव, रोहित चन्द्राकर सहित कलेक्टर भीम सिंह, पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल, सीईओ जिला पंचायत चंदन कुमार, डीएफओ मोहम्मद शाहिद, अपर कलेक्टर जे.के. धु्रव के अलावा जनप्रतिनिधि, अधिकारी-कर्मचारी एवं बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे।

Back to top button