छात्रावास में असुविधा के बीच बच्चे, सीईओ ने पंचायत इंस्पेक्टर को जांच के लिए भेजा

संतोष जैन :

गौरेला : ग्रामीण क्षेत्र के छात्रावास में असुविधा के बीच बच्चे रह रहे हैं। इसकी जानकारी अधिकारियों से शिकायत होने पर मिलती है। ग्राम केंवची के बालक छात्रावास के बच्चे जनपद में सीईओ से होस्टल में खाने पीने में आ रही दिक्कत के बारे में बताया।

उन्होंने कहा यही हाल रहा तो छात्रावास छोड़ देंगे। छोटे छोटे बच्चों की बातें सुनकर सीईओ ने पंचायत इंस्पेक्टर को छात्रावास में जांच के लिए भेजा। जहां जांच अधिकारी ने शिकायत को सही पाया। उन्होंने प्रतिवेदन सीईओ को सौंप ि दया। मामले में सीईओ ने कहा जांच में शिकायत सही मिली है कार्रवाई की जाएगी।

पेंड्रारोड विकासखंड के अंतर्गत ग्राम पंचायत में बालक छात्रावास केंवची में बड़ी संख्या में शैक्षिक सत्र शुरू होने के साथ रहने के लिए आए हैं। यहां की अव्यवस्था से लड़ रहे हैं।

अधीक्षक अजीत लहरे और रसोइया समीर सोनवानी छात्रावास में बच्चों के लिए भोजन की व्यवस्था संभालते हैं। रसोइया समीर सोनवानी बीते एक पखवाड़े से भोजन में चावल दाल में दाल में पानी अधिक मिला दे रहे हैं।

उन्हें कहने पर रात में नशे में गाली.गलौच करते हैं। इसकी शिकायत अधीक्षक से करने पर अनसुनी कर देते हैं। इसे लेकर आक्रोशित छात्रों ने गौरेला जनपद पंचायत के सीईओ महेश यादव से शिकायत करते हुए उन्होंने अपनी समस्या गिनाते हुए बताया कि केंवची छात्रावास में अव्यवस्था व्याप्त है।

इस संबंध में अधीक्षक से शिकायत करने पर कार्रवाई करते हैं। उन्होंने बताया खाने पीने में असुविधा के कारण कुछ बच्चे बीमार हो गए हैं। वहीं कुछ बच्चे छात्रावास छोड़कर जाने का मन बना रहे हैं।

अगर ऐसे ही हाल छात्रावास में रहा तो मजबूरी में सभी लोग हॉस्टल छोड़ने के लिए विवश हो जाएंगे। मामले की गंभीरता को देखते हुए जनपद के सीईओ महेश यादव ने तत्काल पंचायत इंस्पेक्टर को जांच कर तत्काल प्रविदेन देने के लिए कहा।

जिस पर पंचायत इंस्पेक्टर छात्रावास पहुंचे उन्होंने मौके का निरीक्षण कर बच्चों की शिकायत को सही पाया उन्होंने बच्चों से अन्य सुविधाओं के बारे में जानकारी ली जिस पर उन्हें संतोषजनक नहीं पाया।

इसके बाद पंचायत इंस्पेक्टर ने जांच प्रतिवेदन तैयार कर जनपद के सीईओ महेश यादव को सौंपा। सीईओ ने बेहद सख्त लिहाज में बच्चों के साथ हो रहे बर्ताव को बेहद गंभीर बताते हुए तत्काल कार्रवाई करने की बात कही।

new jindal advt tree advt
Back to top button