बच्चे स्कूल के गेट पर करते रहे इंतजार, नहीं पहुंचे शिक्षक

-एक स्कूल जहां चार साल अनुपस्थित है शिक्षिका, कार्रवाई नहीं

-अमृत लाल साहू

भाटापारा।

भाटापारा में हो रही बारिश के कारण स्कूलों में बच्चों की उपस्थिती कम तो कुछ स्कूलों में शिक्षक ही नहीं पहुंचे। एक स्कूल ऐसा भी है, जहां चार साल से एक शिक्षिका अनुपस्थित है। शिकायत के बाद आज तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है।

आपको बता दें कि बारिश के चलते कुछ स्कूलों ऐसे भी कैमरे में कैद हुए जहां बच्चे बेग लेकर शिक्षकों के इंतजार करते नजर आए।

क्लिपर28 की टीम जब शासकीय स्कूलों में बच्चों की उपस्थिति का जायजा लेने पहुंची तो पता चला की 495 दर्ज संख्या वाले पंचम दिवान शासकीय कन्या शाला में केवल 40 से 45 प्रतिशत बच्चे उपस्थित मिले तो वहीं न्यू हिन्दी प्राथमिक शाला में दर्ज संख्या 158 मे केवल 33 बच्चे ही उपस्थित मिले।

आप को बता दें कि भाटापारा ब्लॉक के अधिकांश स्कूल शिक्षकों की कमी से तो जुझ रहा है। इसकी जानकारी बीईओ से लेकर उच्च अधिकारियों को है। यह शासन के लिए कोई नई बात नहीं है। ऐसे स्कूलों में पढ़ने और पढ़ाने वालों की स्थिति को देखकर यह कहा जा सकता है शिक्षा की गुणवत्ता भगवान भरोसे है।

चार साल बीतने को है विषय शिक्षक की अनुपस्थिति को लेकर आज तक कोई कार्यवाही नहीं इससे ही अनदाजा लगाया जा सकता है कि शिक्षा विभाग बच्चों के भविष्य को लेकर कितना गंभीर है।

Back to top button