छुरा के नागरिकों ने नगर के बीच स्थित धर्मकांटा को बंद करवाने नगर पंचायत को सौपा ज्ञापन

कुलेश्वर सिन्हा:

छूरा: नगर पंचायत छूरा के गरियाबंद रोड में स्तिथ धर्मकांटा से आसपास के लोग काफी परेशान हैं, क्योंकि हर दिन क्षमता से अधिक वाहन आते-जाते हैं जिसके कारण हर समय दुर्घटना का डर लोगो मे बना रहता है। कई बार तो बड़ी दुर्घटना होते होते बची है।

एक बार धान से भरी ट्रेक्टर पलट गई, तो कल ही एक ट्रक ने विद्युत के पोल को रिवर्स लेते समय 2 टुकड़ो में तोड़ दिया। नगर पंचायत के द्वारा पूरे नगर में नाली निर्माण किया गया हैं इसी तरह यह नाली भी निर्माण किया गया।

उक्त ठेकेदार ने यहाँ पर सकरा नाली निर्माण किया है, जिसके कारण गंदा पानी की निकासी नही हो पा रही हैं, पानी जाम पड़ी हुई है। साथ ही साथ उक्त धर्मकांटा के द्वारा लगभग 1 ट्रेक्टर धूल अभी भी जमा पड़ा हुआ है। कोई भी गाड़ी आती है तो वह धूल उड़ता है और पूरा डस्ट दुकानों में घुस जाता है, जिसके कारण दुकान वालो में आक्रोश व्यापत है ।

मेमन धर्मकांटा पहले गोदाम था, लेकिन अपना फायदे की चाह में यह धर्मकांटा यहाँ संचालित किया जा रहा है और यह नियम के मुताबिक नही है क्योंकि हर धर्मकांटा में एक आवागमन एक निकासी द्वार होता हैं, मगर यहाँ तो एक ही रास्ते से गाड़ी अंदर-बाहर किया जाता है जिसके कारण कभी भी बड़ी दुर्घटना घट सकती है।

कई बार आवेदन दिए फिर भी निराकरण नही

आसपास के नागरिक और व्यापारी गण के द्वारा इस समस्या के समाधान के लिए कई बार आवेदन दिया गया। मगर दबंग मालिक के दबंगई के चलते अब तक नगर पंचायत के अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों ने इस धर्मकांटा के विरुद्ध किसी भी तरह की बात नहीं कही।

धर्मकांटा में आये ट्रक ने विद्युत चलित पोल को अपने चपेट में लिया जिससे वह दो टुकड़ो बट गया लेकिन भगवान की कृपा से वह जमीन में नही गिरा, सीधी टूटकर खड़ी रह गयी। अगर वह जमीन में गिर जाता तो बहुत बड़ी दुर्घटना घट सकती थी।

प्रमुख रूप से इंगेन्द साहू, भूपेंद्र साहू, सत्य कबीर टाईल्स, लालू सारडा, पंकज गुप्ता, पोकोश्वर, हरीश द्वेदी, राहुल शर्मा, अक्षत तिवारी, शिवम द्विवेदी, एवं समस्त व्यापारियों ने आवेदन देकर इस धर्मकांटा को बंद करने की बात कही।

ज्ञात हो नगरपंचायत छूरा में इन आवेदन कर्ताओ का कहना है कि जब भी हमने आवेदन हमको न पावती दिया गया न ही इस धर्मकांटा के खिलाफ कार्यवाही हुई। इस बात को खबर मीडिया को लगते ही मीडिया के सामने में आवेदनकर्ताओ को पावती दिया गया और धर्मकांटा के खिलाफ कार्यवाही का आश्वासन भी नगर पंचायत छूरा के सीएमओ के द्वारा दिया गया।

कभी भी कहीं भी बीच शहर में धर्मकांटा नही होता, यह गलत है। मामले की जांच कर कार्यवाही करेंगे। धर्मकांटा संचालक को नोटिस दिया जायेगा और विधिवत कार्यवाही की जायेगी। -एन आर रत्नेश सीएमओ नगर पंचायत छूरा

Back to top button