छत्तीसगढ़

नगरवासियों में परस्पर सौहार्द्र व भाईचारा की भावना को कलेक्टर ने बताया ऐतिहासिक

शांति समिति की बैठक में सर्वसमाज ने ईद व प्रकाश पर्व साथ-साथ मनाने की बात कही

राजशेखर नायर
धमतरी: शांति समिति की बैठक आज दोपहर कलेक्टर रजत बंसल एवं एसपी बी.पी. राजभानू के द्वारा ली गई, जिसमें विभिन्न समाज के लोग शामिल हुए।

बैठक में उपस्थित समाज के वरिष्ठ प्रतिनिधियों ने रविवार 10 अगस्त को ईदे-मिलादुन्नबी और गुरूनानक जयंती के अवसर पर प्रकाश पर्व साथ-साथ मनाने की बात समवेत स्वर में कही। इस दौरान कलेक्टर ने कहा कि धमतरी नगर की पहचान सर्वधर्म समभाव के रूप में सर्वविदित है। उन्होंने पूर्व की भांति इस बार भी परस्पर सौहार्द्र और भाईचारे के साथ हर्षाेल्लासपूर्ण ढंग से पर्व मनाने की अपील की।

कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित शांति समिति की बैठक में कलेक्टर ने कहा कि अयोध्या मामले में आज भारत के उच्चतम न्यायालय का जो फैसला आया है, उससे कहीं ऐतिहासिक सर्वधर्म एकता की मिसाल धमतरी नगर में देखने को मिल रही है, जहां पर सभी समाज के लोग बदस्तूर परस्पर समन्वय के साथ त्यौहारों का आनंद उठाएंगे।

उन्होंने समाज के प्रतिनिधियों की मांग पर जश्ने-ईद के मौके पर निकलने वाले जुलूस को लेकर जिला प्रशासन व पुलिस विभाग द्वारा आवश्यक सहयोग किए जाने का आश्वासन दिया।

साथ ही जुलूस का आयोजन शांतिपूर्ण ढंग से किए जाने की अपील की। कलेक्टर ने बताया कि आतिशबाजी व अतिउत्साहपूर्ण क्रियाकलाप, जिससे किसी भी भावनाएं आहत हों, ऐसे कृत्य प्रतिबंधित रहेंगे। शहर में जुलूसों का आयोजन बारी-बारी से किया जाएगा। बैठक में एस.पी. राजभानू ने सभी समाज के लोगों से पर्व मनाने की बात करते हुए पुलिस प्रशासन और कानून व्यवस्था में सहयोग करने का आव्हान किया।

इस अवसर पर विभिन्न समाज के प्रतिनिधियों ने एकमत होकर ईदे-मिलादुन्नबी और प्रकाश पर्व के साथ-साथ आगामी 12 नवंबर को सिंधी व जैन समाज के त्यौहार साथ-साथ मनाने की बात कही। इस दौरान अपर कलेक्टर श्री दिलीप अग्रवाल, ए.एस.पी मनीषा ठाकुर, एसडीएम धमतरी योगिता देवांगन सहित विभिन्न समाज के प्रतिनिधिगण मौजूद थे।

Tags
Back to top button