छत्तीसगढ़

कलेक्टर ने दिए निर्देश, साफ सुथरा और सुविधायुक्त होगा केंद्र

राजनांदगांव । कलेक्ट्रेट परिसर में संचालित दाल-भात केंद्र का रिनोवेशन किया जाएगा, यहाँ मॉडल दाल-भात केंद्र की सुविधाएँ उपलब्ध कराई जाएंगी। आज कलेक्टर श्री भीम सिंह ने यहाँ निरीक्षण किया एवं दालभात केंद्र आए लोगों से बातचीत भी की। कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि डीएमएफ की राशि से दालभात केंद्र का रिनोवेशन किया जाए। पीने के साफ पानी के लिए आरओ की सुविधा दी जाए। गर्मी के मौसम में लोगों को राहत मिलती रहे इसके लिए परिसर में कूलर की सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि कलेक्ट्रेट परिसर में मॉडल दाल भात केंद्र शुरू होने से यहाँ आने वाले लोगों की संख्या भी बढ़ेगी अतएव बाहर भी चेयर्स लगाने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही परिसर में बाउंड्रीवॉल का निर्माण, वाश बेसिन एवं दालभात केंद्र के लिए अन्य आवश्यक संसाधन प्रदाय करने के निर्देश दिए। उन्होंने दालभात केंद्र संचालित करने वाली आश्रय स्वसहायता समूह की महिलाओं से भी बातचीत की। महिलाओं ने बताया कि वे दाल-भात के पाँच रुपए के शुल्क के साथ ही सब्जी चाहने वाले लोगों को भी 10 रुपए में भरपेट खाना खिलाती हैं।

कलेक्टर ने कहा कि मॉडल दालभात केंद्र बनने के बाद लोगों की भीड़ बढ़ेगी। यहाँ पर चाय एवं नाश्ते का इंतजाम होने पर स्वसहायता समूह की महिलाएँ अतिरिक्त आय कमा सकती हैं। इसके लिए शासन की योजनाओं का लाभ उठाकर समूह आसानी से ऋण लेकर अपना कार्य बढ़ा सकता है। उन्होंने कहा कि यहाँ आने वाले लोगों के मनोरंजन के लिए टीवी भी दालभात केंद्र में लगा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि स्वच्छता से ग्राहक बड़ी संख्या में आकर्षित होते हैं। साफ सुथरा दाल-भात केंद्र का विकल्प मिल जाने से दूरदराज से कलेक्ट्रेट आने वाले ग्रामीणजनों को भरपेट और मनपसंद भोजन मिल सकेगा और यहाँ का माहौल भी उन्हें अच्छा लगेगा। इस अवसर पर सहायक कलेक्टर डॉ. रवि मित्तल तथा सहायक खाद्य अधिकारी श्री तुलसी ठाकुर भी उपस्थित थे। श्री ठाकुर ने बताया कि जिले में चार दाल-भात केंद्र संचालित हो रहे हैं। इनमें दो राजनांदगांव में तथा दो डोंगरगढ़ में संचालित किए जा रहे हैं। उल्लेखनीय है कि बीते दिनों कलेक्टर ने डोंगरगढ़ में भी दाल-भात केंद्र का निरीक्षण किया था और यहाँ भी रिनोवेशन के निर्देश दिए थे ताकि माई जी का दर्शन करने पहुँचने वाले यात्रियों को अच्छी जगह में भरपेट भोजन मिल सके।
डीएमएफ मद से बनेगा मॉडल केंद्र – दालभात केंद्र का रिनोवेशन डीएमएफ मद से होगा। इस संबंध में प्रस्ताव बनाने के निर्देश कलेक्टर ने नगर निगम को दिए हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.