शहीदों का योगदान सदैव रहेगा अविस्मरणीय-मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं शहीदों के परिवारजनों को किया गया सम्मानित

राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर कलेक्टर ने घर जाकर किया सम्मान
रायगढ़:
राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर आज स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों तथा शहीदों के परिवारजनों को प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की ओर से कलेक्टर यशवंत कुमार ने उनके निवास पहुँचकर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएँ दी और स्मृति चिन्ह व उपहार देकर सम्मानित किया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने संदेश में कहा कि राज्य के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों ने स्वतंत्रता संग्राम आंदोलन में महत्वपूर्ण योगदान दिया था तथा शोषण मुक्त, भयमुक्त, समतावादी, स्वस्थ एवं समृद्ध छत्तीसगढ़ राज्य की संकल्पना की थी।

साथ ही प्रदेश के कुछ हिस्सों में जारी हिंसक संघर्ष को समाप्त करने में राज्य की सैकड़ों सपूतों ने अपने प्राणों की आहूति दी है। उनका योगदान भी सदैव अविस्मरणीय रहेगा।

राज्य गठन के इस पावन अवसर पर मैं उन सभी महान विभूतियों को कृतज्ञता पूर्वक श्रद्धा सुमन अर्पित करता हूं तथा हम श्गढ़बो नवा छत्तीसगढ़्य के मूल मंत्र के साथ स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और शहीदों के आशा अनुरूप राज्य निर्माण के लिए संकल्पित है।

कलेक्टर यशवंत कुमार ने सभी सेनानियों तथा शहीदों के परिवारजनों को राज्य स्थापना दिवस की गाड़ा-गाड़ा बधाई दी और स्मृति चिन्ह व उपहार भेंट करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ को एक सशक्त राज्य के रूप में स्थापित करने में सभी शहीदों का बलिदान और योगदान अतुलनीय है तथा हम उनकी वीरता एवं आप सभी परिवारजनों के साहस को शत-शत नमन करते हैं।

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्वर्गीय दयाराम ठेठवार, स्व. रामकुमार अग्रवाल, स्व. हरिशचंद्र अग्रवाल, स्व. तोड़ाराम जोगी, स्व. अमरनाथ तिवारी, स्व.मामा बनारसी लाल तिवारी, स्व. दुलीचंद शर्मा, स्व. रामकिशन लुटेरिया, स्व. किशोरी मोहन त्रिपाठी, स्व.ब्रजभूषण शर्मा तथा पुलिस विभाग अंतर्गत शहीद स्व. सुभाष बेहरा, स्व.लक्ष्मीनारायण राठिया, स्व.बीर सिंह श्रीवास, स्व. राघवराम ओझा, स्व. सुखसाय भगत,

स्व. शिव कुमार सिदार, स्व. तनिकलाल पटेल, राजाराम एक्का, स्व.पंचराम भगत एवं स्व.रोहित कुमार सिदार के परिवारजनों को बधाई एवं शुभकामना संदेश तथा स्मृति स्वरूप उपहार भेंट किए गए। इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षकअभिषेक वर्मा, एसडीएम रायगढ़ आशीष देवांगन तथा पुलिस विभाग के अधिकारी-कर्मचारी व शहीदों के परिजन उपस्थित रहे।

Tags
Back to top button