मायके वालों ने घर के बाहर जला दिया बेटी का शव

मायके वालों का आरोप-कुठेहड़ पंचायत का कोई सहयोग नहीं मिला और ना ही कोई पंचायत का सदस्य हमारे पास आया।

नई दिल्ली: तहसील जवाली के गांव कुठेहड़ में विवाहिता उषा देवी (32) के शव को गुस्साए परिजनों ने शनिवार को घर के पास ही जला दिया, इससे माहौल तनावपूर्ण हो गया।

मायके वालों का आरोप है कि उन्हें कुठेहड़ पंचायत का कोई सहयोग नहीं मिला और ना ही कोई पंचायत का सदस्य हमारे पास आया। मृतका की माता गुड्डी देवी, मौसी और मामा का कहना है कि जब वो शव को लेकर कुठेहड़ पहुंचे तो उन्हें किसी ने कोई सहयोग नहीं किया इसलिए मायके की तरफ़ से आई भीड़ ने सुबह करीबन आठ बजे घर के किनारे ही सीढ़ियों के पास शव को जला दिया।

इस मामले को देखते पुलिस करीबन नौ बजे मौके पर आई पर तब तक मायके वालों ने शव को आग के हवाले कर दिया था। इसके साथ ही मायके वालों ने कुठेहड़ पंचायत मुर्दाबाद के नारे लगाए।

फिलहाल धीरे-धीरे सब शांत हो गया और पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। याद रहे कि उषा देवी (32) के मर्डर में पुलिस ने उसके पति अर्जुन सिंह, ससुर सूरत सिंह व सास विष्णु देवी को धारा 302ए 34आईपीसी के तहत गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया था, जिन्हें आज कोर्ट में पेश किया जाएगा।

Tags
Back to top button