राजनीतिराष्ट्रीय

दिनाकरण के विधायकों की किस्मत आज तय करेगी पलनीस्वामी की हैसियत

इन सभी विधायकों को विधानसभा स्पीकर ने अयोग्य करार दिया था

नई दिल्ली, तमिलनाडु की राजनीति से जुड़ा आज अहम दिन है. बीते साल एआईएडीएमके की पलनीस्वामी सरकार से समर्थन वापस लेने वाले टी.टी. दिनाकरण गुट के 18 विधायकों की किस्मत पर फैसला आज आएगा. इन सभी विधायकों को विधानसभा स्पीकर ने अयोग्य करार दिया था, जिसके बाद इन्होंने मद्रास हाईकोर्ट में इसे चुनौती दी थी. कोर्ट का फैसले का सीधा असर राज्य की सरकार पर हो सकता है.

क्या-क्या हो सकता है?
अगर कोर्ट स्पीकर के फैसले को गलत ठहराता है, तो विधानसभा में फ्लोर टेस्ट हो सकता है. इसमें ई. पलानीस्वामी को संख्या जुटाने में मुश्किल हो सकती है. कहा जा रहा है कि कुछ AIADMK विधायक अपना पाला बदल सकते हैं.

अगर कोर्ट स्पीकर के फैसले को सही ठहराता है, तो सभी 18 विधानसभाओं पर चुनाव हो सकता है.अगर दो जजों की बेंच कोई फैसला नहीं निकाल पाती है तो ये केस तीन जजों के बेंच के पास जाएगा.

अभी क्या है तमिलनाडु विधानसभा की स्थिति?
कुल संख्या – 234
डीएमके – 98
टीटीवी – 1
एआईएडीएमके – 114
18 विधायक (जिनपर मद्रास हाईकोर्ट फैसला करेगा)

ये हैं वो सभी विधायक –

अयोग्य घोषित किए गए विधायकों के नाम थंगा तमिल सेलवन, आर मुरुगन, मारियुप कन्नेडी, के काथीरकमू, सी जयंती पद्मनाभन, पी पलनिअप्पन, वी सेंथिल बालाजी, सी मुथैया, पी वेत्रिवेल, एन जी पार्थीबन, एम कोठांदपानी, टीए एलुमलै, एम रंगासामी, आर थंगादुराई, आर बालासुब्रमणी, एसजी सुब्रमण्यम, आर सुंदरराज और के उमा महेरी हैं.

आपको बता दें कि इन विधायकों ने अन्य लोगों के साथ बीते 22 अगस्त को तमिलनाडु के राज्यपाल सी विद्यासागर से मुलाकात कर कहा था कि वह पलानीस्वामी में विश्वास खो चुके हैं, जिन्हें दिनाकरण ने चुनौती दी है. इन सभी विधायकों ने पलानीस्वामी-पन्नीरसेल्वम सरकार से समर्थन वापस ले लिया था.

Summary
Review Date
Reviewed Item
दिनाकरण के विधायकों की किस्मत आज तय करेगी पलनीस्वामी की हैसियत
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.