समाज में एकता से साथ शिक्षित एवं समृद्ध बनाने मे शिक्षा पर दिया जोर

बंजारा समाज द्वारा कोरहोबेड़ा मे एक दिवसीय वार्षिक अधिवेशन सम्पन्न

– देव

कोण्डागांव: 05 मई को कोंडागांव जिले बड़ेराजपुर ब्लाक के ग्राम कोरहोबेड़ा में बंजारा समाज के द्वारा पिछले वर्ष की भाँति इस वर्ष भी एक दिवसीय वार्षिक अधिवेशन महासभा का आयोजन किया गया था । जिसमें जिले के सभी पांचों ब्लॉक से बंजारा समाज के महिला पुरुष ने भाग लिये।

कार्यक्रम की शुरुआत संत सेवालाल महाराज और मेरामां के छायाचित्र में दीप प्रज्वलित पूजा अर्चना कर की गई। तत्पश्चात समाज के जिला व वरिष्ठ पदाधिकारियों का सम्मान किया गया। जिसमें समाज की महिलाओं के द्वारा अपनी मातृभाषा में गीत गाकर अतिथियों का स्वागत किया गया ।

उत्कृष्ठ कार्य के लिए मिला गौरव सम्मान

इस वार्षिक अधिवेशन में समाज के 10 चुनिंदा लोगो को समाज के प्रति उत्कृष्ट कार्य करने के लिए समाज के सुखिया राम चौहान (बालोण्ड), बंधु राम भारद्वाज (बड़ेबेन्दरी ), आनंद पवार (बड़ेकनेरा), रूपसिंह नायक (सिवनीपाल),

शोभा नायक (माकड़ी घोड़ागांव) जीवन लाल राठौर (मोहलई), दीपक नायक (विश्रामपुरी), अरुण कुमार पम्हार (लुभा), मोतीलाल राठौर (धामनपुरी), भरत भारद्वाज (फरसगांव) को समाज प्रमुख व समाज के लोगो की उपस्तिथि मे संत सेवालाल गौरव सम्मान से समानित किया गया साथ ही प्रसस्थि पत्र भी दिया गया।

जिला महिला प्रकोष्ठ का हुआ गठन

समाज के वार्षिक अधिवेशन के दौरान जिला स्तरीय महिला प्रकोष्ठ का गठन किया गया, जिसमें संरक्षक के पद पर अन्नपूर्णा राठौर (केशकाल), वेदवती राठौर(माकड़ी), भागवती राठौर (फरसगांव), पार्वती राठौर (बड़ेराजपुर), सुंदरबत्ती पवार (कोण्डागांव) को और अध्यक्ष के रूप में चंद्रिका राठौर (बेड़मा),

उपाध्यक्ष सुमित्रा भारद्वाज (कोण्डागांव), बिन्दा बाई चौहान (माकड़ी), सीता भारद्वाज (फरसगांव), सन्तोषी भारद्वाज (केशकाल), सचिव ललिता भारद्वाज (फरसगांव), कोषाध्यक्ष कृष्णा भारद्वाज (राँधना) को समाज के सभी महिलाओं की सर्वसम्मति से चुना गया।

महासभा मे समाज की गतिविधियों के बारे में हुई चर्चा

समाज में किए गए कार्य व उपलब्धियों के बारे में बताया गया और समाजिक गतिविधियों मे किये गए कार्यो के आय-व्यय की चर्चा भी गई । महासभा मे सामाजिक स्तर पर आए आवेदनों का निराकरण किया गया साथ ही सामाजिक भिन्नताओं को खत्म कर एक साथ चलने की बात कही गई । समाज में समाजिक रीतियों से विवाह संबंधी चर्चा एवं कई विषयों पर चर्चा कर निष्कर्ष निकाला गया । तथा समाज में व्याप्त कुरीतियां फैली हैं इस प्रकार की कुरीतियों को समाज द्वारा बंद कराने का पहल रखी गई ।

समाज के द्वारा समाज के प्रति वर्ष, उत्कृष्ठ विद्यार्थियो जो दसवीं और बारहवीं के में प्रथम और द्वितीय अंक प्राप्त करने वालो को समाज के द्वारा 3000 रुपये और 2000 रुपये प्रोत्साहन राशि देंने की बात कही गई थी, उसी के आधार पर बच्चों को पृरुस्कृत किया गया और समाज के कुछ लोगो के द्वारा आगामी वर्ष में अपने निजी रूप से उत्कृष्ठ बच्चों को पृरुस्कृत करने की बात कहि गई साथ ही समाज मे शिक्षा पर विशेष रूप से ध्यान देते हुए सभी परिवारो को अपने बच्चों के शिक्षा स्तर पर विशेष ध्यान रखने की बात कहि गई क्योंकि जीवन मे क्रियाकलाप व विकास के लिए शिक्षा आवश्यक है।

साथ ही समाज ने पिछली बार की तरह यह घोषणा भी किया की हर वर्ष समाज के गरीब बच्चों को 50 हजार रुपये तक को अध्ययन सामग्री कॉपी , पुस्तक , बेग , ड्रेस जैसे आवश्यक सामग्री के ऊपर खर्च किया जाएगा।

इस दौरान बंजारा समाज के जिलाध्यक्ष लोकनाथ राठौर ने कहा की कोण्डागांव बंजारा के तत्वधान यह हमारा पिछली वर्ष की तरह इस वर्ष दूसरा महासभा वार्षिक अधिवेसन है इस महासभा में हमारा प्रमुख उद्देश्य समाज को एक जुट में जोड़ने के लिए किया गया है।

अगर हमारा समाज शिक्षित होने के साथ संघर्ष करना सीख जाए तो हमारा समाज किसी भी क्षेत्र में पीछे नही रहेगा इसलिए हम सभी को एक जुटता के साथ काम करना जरूरी है। महासभा मे चर्चा के दौरान जिले के सभी पदाधिकारी व जिले के सभी पांचो ब्लाक से आये हुए महिला पुरुष और युवा जन बड़ी संख्या मे मौजूद रहे ।

Back to top button