मॉनसूनी बारिश ने रिलायन्स जियो की एफटीटीएच योजना को कर दिया धीमा

अब तक नहीं बिछाया जा सका जीगाफाइबर केबलों का समूचा जाल

मुंबई।

शहर में पिछले दिनों हुई भारी बारिश की वजह से रिलायन्स जियो इन्फोकॉम की महत्वाकांक्षी फाइबर—टु—द—होम (एफटीटीएच) योजना के तहत जियो जिगाफाइबर बिछाकर घरों में ब्रॉडबैंड इंटरनेट सेवा पहुंचाने के काम में रुकावट आई है। बारिश के कारण फाइबर बिछाने के काम में खलल पड़ने की जानकारी मिली है।

हालांकि रिलायंस जियो इन्फोकॉम ने यहां के स्थानीय केबल आॅपरेटर्स के साथ साझीदारी से यह परियोजना पूरा करने और शहर के अाखिरी कोने तक रहनेवालों के घरों तक ब्रॉडबैंड से चलने वाली बेहद रफ्तार इंटरनेट सेवाएं पहुंचाने की योजना बनाई थी लेकिन यह योजना बारिश की वजह से निर्धारित समय सीमा से काफी पिछड़ चुकी है।

रिलायन्स जियो इन्फोकॉम ने इस महत्वाकांक्षी परियोजना की घोषणा करते हुए कहा ​था कि इस सेवा के लिए ग्राहकों का पंजीयन 15 अगस्त से शुरू कर दिया जाएगा। पूरे देश में यह सेवा इस वर्ष के अंत तक शुरू करने की योजना कंपनी ने बनाई ​है। वहीं, इसके लिए इसे केंद्र सरकार से जरूरी अनुमति अब तक नहीं मिल सकी है। इस वजह से कंपनी बारिश के मौसम में जमीन खोदकर अपना फाइबर केबल बिछाने का काम नहीं कर सकी।

उल्लेखनीय है कि रिलायन्स इंडस्ट्रीज लिमिटेड के अध्यक्ष मुकेश अंबानी ने इस वर्ष अपनी कंपनी की 41वीं सालाना महासभा के दौरान इस महत्वाकांक्षी परियोजना को लागू करने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा था कि एफटीटीएच सेवाओं को तत्काल लागू करना कंपनी की प्राथमिकता है। हर इलाके के लोगों से मिले पंजीयन के आवेदनों की भारी संख्या को देखते हुए कंपनी वहां यह सेवा शुरू करने का निर्णय लेगी।

कंपनी का दावा रहा है कि देश में अब तक मिलने वाली ब्रॉडबैंड इंटरनेट सेवाओं की तरह एफटीटीएच से ग्राहकों को शिकायत का मौका नहीं मिलेगा। अब तक ब्रॉडबैंड सेवाओं के लिए कंपनियां आम तौर पर घटिया गुणवत्ता वाले फाइबर केबलों का प्रयोग करती आई हैं। इससे उनको सिग्नल लॉस का सामना करना पड़ता है। वहीं, रिलायन्स जियो की एफटीटीएच सेवा सीधे ग्राहकों के घरों तक पहुंचेगी।

Tags
Back to top button