छत्तीसगढ़

मोबाईल मिलने से हितग्राहियों के चेहरे खिले

मुंगेली : संचार क्रांति योजना के तहत मुंगेली जिले के नगरीय निकायों में मुफ्त में स्मार्ट फोन मोबाईल बांटने का सिलसिला जारी है। मोबाईल मिलने से हितग्राहियों के चेहरे खिल उठे। मोबाईल एकांकी जीवन जीने वालों के लिए साथी बन गया है। पूछने पर मुंगेली नगर पालिका क्षेत्र के अंतर्गत सरदार पटेल वार्ड की श्रीमती मीना बाई, सुभाष वार्ड की 52 वर्षीय श्रीमती भागा बाई और शंकर वार्ड की 45 वर्षीय उर्वशी ने मोबाईल पाकर बहुत खुश हुई। हितग्राहियों ने बताया कि मोबाईल चलाना नहीं आता।

घर में बेटा-बेटियों से मोबाईल चलाना सीखूंगी। भागाबाई ने बताया कि मोबाईल मिलने से बने लागिस। अब मोबाईल म ददरिया गाना सुनहू। मीना बाई ने बताया कि घर में एक लड़का, एक लड़की है। बच्चे चाहते थे कि एक मोबाईल मिल जाये। स्मार्ट फोन मिलने से बहुत खुश है। इसी तरह महामाई वार्ड की खतिजा बेगम और हेमा दास को भी मोबाईल बांटा गया। हितग्राहियों ने बताया कि घर में ही रहते है। गृहिणी का काम करती है। सुभाष वार्ड की श्रीमती भागाबाई ने बताया कि मोर पांच लईका हे। मोबाईल मिलिस तो बने लागिस। खतिजा बेगम ने बताया कि वे अपने लड़की के साथ सतनाम भवन में मोबाईल लेने आई थी। क्योंकि स्काई योजना से मोबाईल बांटने की जानकारी मिली थी।

मोबाईल से झाड़ूपोछा लगाने वाली सुनीता की संवरेगी जिंदगी
मुंगेली नगर पालिका क्षेत्र के सुभाष वार्ड की 35 वर्षीय सुनीता ताम्रकार ने बताया कि वे निजी सुखनंदन अस्पताल में झाड़ूपोछा लगाने का काम करती है। उसके दो लड़की और एक लड़का है। उन्होने बताया कि मोबाईल चलाने लड़कियों से सीखेगी। जब मोबाईल मिलने की जानकारी मिली तो घर में बच्चे बहुत खुश हुए। बच्चे चाहते भी थे कि दूसरे लोगों से बात करने के लिए मोबाईल मिल जाये। अब सपना साकार हो गया है। जब मंत्री जी ने मोबाईल देकर पूछा कि सेल्फी लेना चाहती हो तो ले सकती हो। जिससे सुनीता मुस्कुरा दी। बच्चों से सीखने की बात बोली। अब वे झाड़ूपोछा लगाने के साथ ही मोबाईल भी चलायेगी। वे शासन की इस योजना की सराहना करती है।