भागवत कथा के नाम पर बच्चों से वसूल रहे मोटी रकम

कैसे होगी स्कूल में पढ़ाई जबकी स्कूल में है भक्ति छाई

रवि सेन

बागबाहरा।

नगर के वार्ड क्रमांक 9 में संचालित प्राइवेट स्कूल सरस्वती ज्ञान विद्या मंदिर के संचालक हरभान सिंग यादव द्वारा स्कूल परिसर में भागवत कथा का आयोजन कराया जा रहा है। स्कूल प्रबंधन द्वारा इस भागवत कथा के नाम पर मोटी रकम की रशीद भी थमाया जा रहा है।

स्कूल ने बाटी लाखों रुपए की रशीद

सरस्वती ज्ञान विद्या मंदिर स्कूल में नर्सरी से 8 तक कि क्लास लगती है जिनमे लगभग 428 बच्चे अध्ययनरत है वही 25 शिक्षकों का स्टॉप भी है सभी बच्चों को 500 से 1000 रुपये तक कि रशीद भेजी गई है ऐसे में लाखों रुपये की वसूली तो सिर्फ बच्चों से होगी। नाम न छापने की शर्त में कुछ शिक्षकों ने भी बताया कि प्राचार्य द्वारा भागवत कथा के लिए 1000 रुपए की मांग की है पैसे नही देने पर तनख्वाह से काटने की बात कही गयी है।

दान राशि को लेकर पालकों में रोष

सरस्वती ज्ञान विद्या मंदिर में पढ़ने वाले बच्चों के पालको में स्कूल में होने भागवत कथा को लेकर स्कूल प्रबंधन ने बच्चों को आमंत्रण के साथ 500 से 1000 रुपये की रसीद भी भेजी है जिसके कारण पालक नाराज है की इतने ज्यादा पैसे चंदा के रूप में कैसे दिया जाएगा। स्कूल का एक वाट्सएप ग्रुप भी बना है जिनमें स्कूल प्रबंधन के साथ पालक भी जुड़े है इस ग्रुप में भी पालको ने इस दान राशि का खुलकर विरोध किया है।

हरभान सिंग यादव (स्कूल संचालक एवम प्राचार्य ) – स्कूल में 17 जनवरी से भागवत कथा का आयोजन हो रहा है । पूर्व में जैसे आश्रमो में वैदिक शिक्षा दी जाती थी वैसे ही आध्यत्म ज्ञान के लिए भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है ।

के. के. कोवाची (बीईओ बागबाहरा) – किसी भी स्कूल परिसर में शाला अवधि में किसी प्रकार के धार्मिक एवम अन्य कार्यक्रम आयोजित नही किये जा सकते है । स्कूल प्रबंधन द्वारा भागवत कथा के नाम पर बच्चों से 500 , 1000 रुपये लेना गलत है । सरस्वती ज्ञान विद्या मंदिर स्कूल प्रबंधन के ऊपर आज ही टीम गठित कर जांच करवाता हु और कार्यवाही करता हूं।

1
Back to top button