घर में शांति के लिए पिता बन गया शैतान,3 साल की बेटी के साथ किया ये…

दिल्ली के शाहदरा जिले के जीटीबी एंक्लेव इलाके में अन्धविश्वास का मामला सामने आया हैजहा खुद एक पिता अपनी 3 साल की बेटी कर बलि देने की तयारी कर रहा था.रौंगटे खड़े कर देने वाली इस वारदात में पिता ने हैवानियत की सारी हदें पारकर अपनी तीन साल की बेटी के दोनों कान जड़ से काट दिए। गृह शांति के लिए आरोपी मासूम बीनू उर्फ बिना (3) की बलि देने की भी तैयारी कर रहा था, लेकिन उसी समय आरोपी की 11 वर्षीय बेटी ने पिता की करतूत देख ली और शोर मचा दिया। फौरन बच्ची की मां व पड़ोसी वहां पहुंच गए।

मामले की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने मौके से ही आरोपी अमरीत बहादुर (36) को गिरफ्तार कर उसके पास से चाकू बरामद कर लिया। इधर, दोनों कटे हुए कान लेकर परिवार बच्ची के साथ जीटीबी अस्पताल पहुंचा, जहां से उसे एम्स रेफर कर दिया गया। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक, मूलरूप से नेपाल का रहने वाला अमरीत बहादुर परिवार के साथ 450, ताहिरपुर, जीटीबी एंक्लेव इलाके में रहता है। इसके परिवार में पत्नी मीना उर्फ मीनू है। करीब 10 साल पूर्व अमरीत के बड़े भाई महक बहादुर की मौत हो गई थी। भाई की मौत के बाद अमरीत ने अपनी भाभी, जो अब इसकी पत्नी है मीनू से शादी कर ली थी। बड़े भाई से मीनू के दो बेटियां अंजू, कमला (11) व एक बेटा विकास है, जबकि अमरीत से शादी करने के बाद बीनू व एक और बच्ची पैदा हुई थी।दो महीने पहले छोटी बच्ची की मौत हो गई। अमरीत और मीनू की सिर्फ बीनू नामक बच्ची ही बची थी। अमरीत इलाके एक रेस्टोरेंट में सफाई करने के अलावा कारों की सफाई का भी काम करता है। आरोप है कि अमरीत तंत्रमंत्र विद्या पर यकीन करता है। अक्सर वह तांत्रिकों के पास भी जाता रहता है। उसका कहना है कि उसके घर में अशांति चल रही है।

Back to top button