छत्तीसगढ़

प्रदेश के पहले म्यूजिकल डोम का निर्माण शुरू, कलाकारों को मिलेगा मंच

- नईम खान

बिलासपुर।

कोन्हेर गार्डन में प्रदेश का पहला म्यूजिकल डोम का निर्माण शुरू हो गया है। बुधवार की शाम महापौर किशोर राय व वार्ड के जनप्रनिधियों ने भूमिपूजन किया। आने वाले कुछ माह में यहां शहर के कलाकारों को मंच और नशे की लत में आए युवाओं को नशामुक्ति के लिए प्रेरणा मिलेगी।

पूरी योजना रिटायर्ड आइजी श्रीवास्तव की सोच का तनीजा है। उन्होंने ही इस तरह का प्लान निगम आयुक्त सौमिल रंजन चौबे को दिया था।

इसके मुताबिक ही अब निगम डोम का निर्माण शुरू करने जा रहा है। इसके पीछे सोच यह है कि ऐसे युवा जो कोई काम नहीं होने के कारण नशे और अपराध के क्षेत्र में चले जाते हैं, उन्हें एक मंच देना। डोम में वे अपनी मनपसंद का वाद्य यंत्र बजा सकते हैं।

यहां ऐसी व्यवस्था रहेगी कि बिना माइक के ही आवाज पूरे डोम में गूंजेगी। हर कोई यहां अपने वाद्य यंत्र बजाने का प्रदर्शन कर सकता है। उनकी आवाज डोम के अंदर ही रहेगी, बाहर किसी तरह का शोर नहीं होगा। निगम ने अब निर्माण कार्य की तैयारी शुरू कर दी है। इससे युवाओं व कलाकारों को जोड़ने के लिए निगम प्रशासन की ओर से एक्सपर्ट की टीम तैयार करने की भी योजना है।

60 लोग एक साथ बैठ सकेंगे

म्यूजिकल डोम में एक समय पर एक साथ करीब 60 लोग बैठ सकेंगे। यहां म्यूजिकल इस्ट्रूमेंट्स प्ले करने के साथ योगा और एक्सरसाइज भी किया जा सकता है। इतना ही नहीं, संगीत के अलावा युवा चाहें तो यहां भाषण, वाद-विवाद या किसी भी विषय पर खुलकर एक-दूसरे से चर्चा कर सकेंगे। डोम में नई तकनीक से प्राकृतिक ईको होगा।

म्यूजिकल डोम की परिकल्पना रिटायर्ड आइजी श्री श्रीवास्तव की है। इसके जरिए युवाओं को सकारात्मक कार्य करने के लिए प्रेरित किया जाएगा। इसमें नशे की गिरफ्त में आए युवा और बेरोजगार युवाओं को मुख्य रूप से जोड़ा जाएगा। इसके अलावा अन्य कलाकार और लोग भी यहां आकर अपनी कला का खुलकर प्रदर्शन कर सकते हैं।

Summary
Review Date
Reviewed Item
प्रदेश के पहले म्यूजिकल डोम का निर्माण शुरू, कलाकारों को मिलेगा मंच
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.