बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि-5 का पहला ट्रायल आज, ये है खूबियां…जिसे देखा दुश्मनो भी घबराया…

नई दिल्ली. हिंदुस्तान आज दुनिया को अपनी धमक दिखाए हुए 5000 किमी से अधिक मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि-5 का आज पहला यूजर ट्रायल करेगा। आपको बता दें कि Defence Research and Development Organisation (DRDO) अब तक परमाणु मिसाइल अग्नि-5 के कुल 7 परीक्षण कर चुका है, लेकिन Agni V Missile के जंगी बेड़े में शामिल होने के बाद इस तरह का यह पहला परीक्षण किया जा रहा है। खास बात ये है कि अग्नि-5 मिसाइल का परीक्षण ऐसे समय में किया जा रहा है, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिकी दौरे पर रवाना हो चुके हैं, वहीं दूसरी ओर भारत के इस मिसाइल परीक्षण से चीन घबराया हुआ है और लगातार अग्नि-5 मिसाइल के परीक्षण पर सवाल खड़े कर रहा है।

दुनिया के 8 देशों में शामिल होगा भारत, जिनके पास ऐसी मिसाइल

Agni V Missile का परीक्षण आज ओडिशा के तट से किया जाएगा। इस परीक्षण के सफल होने के साथ ही भारत उन 8 देशों में शामिल हो जाएगा, जिनके पास परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम मिसाइल है। फिलहाल न्यूक्लियर हथियार ले जाने में सक्षम मिसाइल चुनिंदा देशों के पास ही मौजूद है।

Agni V Missile में ये है खूबियां

  • अग्नि 5 मिसाइल भारत की पहली इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल है, जो न्यूक्लियर हथियारों से लैस है।

  • यह मिसाइल 6000 किलोमीटर तक हमला कर सकती है।

  • इस मिसाइल पर एक साथ डेढ़ टन परमाणु हथियार भेजे जा सकते हैं।

  • आवाज की गति से यह मिसाइल 24 गुना तेज रफ्तार से जाती है।

  • कैनिस्टर तकनीक के कारण इस मिसाइल को आसानी से ट्रांसपोर्ट किया जा सकता है।

कड़ी मेहनत से DRDO ने किया तैयार

अग्नि 5 सीरीज की यह 5वीं मिसाइल है और कड़ी मेहनत के बाद DRDO ने तैयार किया है। फिलहाल ऐसी मिसाइल अमेरिका, ब्रिटेन, रूस, फ्रांस, इजरायल, चीन और उत्तर कोरिया के पास ही है। भारत के अग्नि-5 टेस्ट पर चीन को गहरी आपत्ति है क्योंकि इस मिसाइल के परीक्षण से ही भारत चीन के समकक्ष आ जाएगा।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button