अयोध्या मामले पर 26 फरवरी से सुप्रीम कोर्ट में सीजेआई की पांच सदस्यीय बेंच करेगी सुनवाई

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय अयोध्या के राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले की सुनवाई 26 फरवरी को करेगा। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच-सदस्यीय संविधान पीठ के समक्ष यह मामला 26 फरवरी को सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया गया है।

संविधान पीठ में न्यायमूर्ति गोगोई के अलावा न्यायमूर्ति एस. ए. बोबडे, न्यायमूर्ति डी. वाई. चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति अशोक भूषण एवं न्यायमूर्ति एस. अब्दुल नजीर शामिल हैं।

गौरतलब है कि मामले की सुनवाई गत 29 जनवरी को होनी थी, लेकिन न्यायमूर्ति बोबडे के छुट्टी पर रहने के कारण सुनवाई स्थगित करनी पड़ी थी। अब न्यायमूर्ति छुट्टी से लौट आये हैं, इसलिए अब इसकी सुनवाई के लिए 26 फरवरी की तारीख मुकर्रर की गयी है।

इससे पहले, 27 जनवरी को शीर्ष अदालत की ओर से एक नोटिस में जारी करके बताया गया था कि न्यायमूर्ति एस. ए. बोबडे की अनुपलब्धता के कारण संविधान पीठ इस मामले की सुनवाई 29 जनवरी को नहीं करेगी।

Back to top button