छत्तीसगढ़

प्रधानमंत्री आवास के हितग्राहियों से धोखाधड़ी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश

आरोपियों से 15 ATM कार्ड, 05 मोबाईल, कम्प्युटर सेट, जेसीबी मशीन, मोटर सायकल व नगदी रुपए जब्त

ऋषिकेश मुखर्जी

रायगढ़।

पुलिस अधीक्षक महोदय राजेश कुमार अग्रवाल के मार्गदर्शन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदय हरीश राठौर के मार्गदर्शन व पुलिस अनुविभागीय अधिकारी खरसिया सपन चौधरी के दिशा निर्देशन में खरसिया पुलिस द्वारा जनपद पंचायत का अधिकारी बनकर प्रधानमंत्री आवास हितग्राही सर्वे के नाम पर ग्रामीणों के निजी खाते से रुपए आहरण करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया गया है ।

थाना खरसिया क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बानीपाथर एवं ग्राम करपीपाली में निवासरत प्रार्थी/आवेदक क्रमश: हेमलाल रौतिया व भारत राम कलार के गांव दो अज्ञात व्यक्ति मोटर सायकल में दिनांक 05.01.19 को आकर स्वयं को जनपद पंचायत का अधिकारी बताकर प्रधानमंत्री आवास हितग्राही के सर्वे के नाम पर इनका आधार नंबर व मोबाइल नम्बर तथा थम मार्फो मशीन से उनके अंगूठे का डिजीटल निशान लेकर इनके साथ धोखाधड़ी की इनके निजी बैंक खातों से ₹10000 व ₹1900 रूपये आहरण कर प्राप्त कर लिये ।

घटना की रिपोर्ट दिनांक 11.01.19 को दोनों पीडित ग्रामीणों द्वारा थाना खरसिया में दर्ज कराया गया है, रिपोर्ट पर अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध अप.क्र. 17, 18/19 धारा 420, 34 ता.हि. पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा शीघ्र अज्ञात आरोपियों की पतासाजी के लिये खरसिया पुलिस को निर्देशित किये जिस पर खरसिया पुलिस तत्काल हरकत में आई व अज्ञात आरोपियों की पतासाजी में जुट गई ।

वरिष्ठ अधिकारियों से मिले दिशा निर्देशन व प्रारंभिक विवेचना में खरसिया पुलिस द्वारा लैलूंगा थाना क्षेत्र के चार संदेहियों को हिरासत में लेकर हिम्मत अमली से पूछताछ किया गया । संदेहियों द्वारा पुलिस को पूछताछ में बताएं कि इनके द्वारा थम मार्फो मशीन एवं यूट्यूब में वीडियो देखकर विभिन्न सॉफ्टवेयर का उपयोग कर थाना क्षेत्र लैलूंगा, जिला जांजगीर-चांपा, जिला बलरामपुर, जिला जशपुर के कई ग्रामों एवं थाना क्षेत्रों में प्रधानमंत्री आवास योजना के गरीब हितग्राहियों के साथ छल कपट कर कई लाख रुपए कमाए हैं । इसी क्रम में इनके द्वारा थाना खरसिया क्षेत्र के ग्राम बानीपाथर व करपीपाली में भी घटना को अंजाम दिया गया था।

आरोपी- धर्मेंद्र महंत, संजय तिर्की, बबलू उर्फ श्रवण महंत, चैतन कुमार यादव से पूछताछ कर उनके अपराध के कबूलनामे व उनसे घटना में प्रयुक्त उपकरण व नगदी जब्त कर आरोपियों को गिरफ्तार कर रिमांड पर भेजा गया है ।

खरसिया पुलिस द्वारा आरोपियों से घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल, 15 एटीएम कार्ड, 5 नग मोबाइल, 3 नग थम मार्फो मशीन, एक कंप्यूटर सेट नगदी रकम करीब ₹5000 व घटना कार्य कर प्राप्त किए गए रकम से खरीदी गई जेसीबी मशीन, एक बुलेट मोटरसाइकिल जब्त किया गया है।

घटना के संबंध में रायगढ़ पुलिस द्वारा अन्य जिलों को आर.एम व पत्राचार कर अपराध व अपराधियों के तरीका-ए-वारदात से सूचित किया गया है। मामले का पर्दाफाश करने में थाना प्रभारी खरसिया निरीक्षक अभिनव कांत सिंह, उपनिरीक्षक दुबे, ए.एस.आई. जीपी बंजारे, प्रधान आरक्षक लक्ष्मीनारायण राठौर, संजय सिंह क्षत्री, आरक्षक विशोप सिंह, प्रदीप तिवारी, उधो पटेल, अलकेश, राजेश राठौर की सराहनीय भूमिका रही है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
प्रधानमंत्री आवास के हितग्राहियों से धोखाधड़ी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags
Back to top button