राष्ट्रीय

सरकार कोई भी हो, राम मंदिर तो बनकर रहेगा: तोगड़िया

सुलतानपुर:

केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार पर तंज कसते हुये अंतर्राष्ट्रीय हिन्दू परिषद (अहिप) के अध्यक्ष प्रवीण भाई तोगड़यिा ने गुरूवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार बगैर वादे के ट्रिपल तलाक कानून पारित करा सकती है लेकिन जिस वादे ने उसे सत्ता के शिखर पर पहुंचाया, उस राममंदिर निर्माण के वादे की उन्हें याद तक नही है।

विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि मोदी सरकार ने बिना वायदा किये हुये जीएसटी और ट्रिपल तलाक कानून पारित कर दिया, लेकिन जिस राम मंदिर बनाने का वायदा किया था उसे पूरा नहीं कर रहे हैं। उन्होंने साफ कहा कि सरकार किसी की भी हो राम मंदिर तो बनकर रहेगा। क्षत्रिय भवन में तोगड़यिा ने पदाधिकारियों के साथ एक बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि राम मंदिर के लिये जिन लोगों ने चंदा दिया, जिन लोगों ने शिलापूजन किया जो लोग शहीद हुये, उनके संकल्प को पूरा करने के लिये वे अपने समर्थकों के साथ आगामी 21 अक्तूबर को लखनऊ से अयोध्या कूच करेंगे।

विहिप अध्यक्ष ने कहा कि उच्चतम न्यायालय में मामला होने के बावजूद संसद में कानून बनाया जा सकता है लेकिन राम मंदिर बनाने के लिये कानून क्यों नहीं बनाया जा रहा है।

जीएसटी और ट्रिपल तलाक कानून बनाने का मोदी सरकार ने कोई वायदा नहीं किया था, बावजूद इसके इसे संसद में पास कर दिया गया, लेकिन जिस राम मंदिर के लिये किए वायदा को मोदी सरकार पूर्ण बहुमत में आने के बावजूद पूरा नहीं कर रही हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर कटाक्ष करते हुये उन्होने कहा इमाम बुखारी से मिलने के लिये मोदी के पास समय है, लेकिन राम मंदिर बनाने के मुद्दे पर बात करने के लिये उनके पास समय नहीं है।

उन्होंने साफ कहा कि राम मंदिर हिन्दू समाज के बलबूते पर बनेगा। जब नरसिम्हा राव की हुकूमत में बाबरी मस्जिद ध्वस्त हो सकता है, वी पी सिंह की सरकार में शिलन्यास हो सकता है और सरकार नरेन्द्र मोदी की भी होगी तो भी राम मंदिर बनकर तैयार होगा।

Tags
Back to top button