राष्ट्रीय

राज्यपाल ने इस गर्भवती महिला की मदद कर इंसानियत की मिसाल पेश की

खुद इंतजार कर महिला को दूसरे हेलिकॉप्टर से रवाना किया

ईटानगर :

अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल ब्रिगेडियर (सेवानिवृत्त) बीडी मिश्रा ने एक ‘लेबर पेन’ से तड़पती गर्भवती महिला को अपने हेलीकॉप्टर से तवांग से ईटानगर लाकर सभी के लिए इंसानियत की मिसाल पेश की है।

ताकि उसे समय पर डॉक्टरी सहायता उपलब्ध हो सके। इतना ही नहीं उन्होंने इस बात का भी पूरा ध्यान रखा कि महिला को सभी मेडिकल सुविधाएं प्राप्त हो। बताया जा रहा है कि उस समय महिला की हालत बहुत नाजुक थी।

राजभवन के सूत्रों ने बताया कि तवांग में बुधवार को आधिकारिक कार्यक्रम के दौरान राज्यपाल ने मुख्यमंत्री पेमा खांडू और स्थानीय विधायक के बीच बातचीत सुनी, जिसके बाद वह मदद के लिए आगे आए।

दरअसल राज्यपाल बीडी मिश्रा एक आधिकारिक कार्यक्रम में शिरकत करने तवांग पहुंचे थे। इसी दौरान उन्होंने स्थानीय विधायक और मुख्यमंत्री पेमा खांडू की बातचीत सुनी। विधायक सीएम को बता रहे थे

कि एक गर्भवती महिला की हालत नाजुक है, लेकिन तवांग और गुवाहाटी के बीच अगले 3 दिनों तक कोई हेलिकॉप्टर सेवा नहीं है। ये सुन कर राज्यपाल ने खुद आगे आकर महिला की मदद का प्रस्ताव दिया।

उन्होंने कहा कि वह खुद अपने हेलिकॉप्टर से महिला और उसके पति को साथ ले जाएंगे। इतना ही नहीं दंपती के लिए हेलिकॉप्टर में जगह बनाने के लिए राज्यपाल ने अपने दो अधिकारियों को तवांग में ही छोड़ने का फैसला लिया।

इस नेक काम में बीडी मिश्रा के सामने कई मुश्किलें सामने आईं, लेकिन वह गर्भवती महिला को अस्पताल पहुंचा कर ही माने। राज्यपाल का हेलिकॉप्टर असम के तेजपुर में ईंधन भरने के लिए उतरा था।

वहां पायलट ने देखा कि हेलिकॉप्टर में कुछ खराबी आ गई है और अब वह उड़ान नहीं भर सकता। महिला की हालत से परेशान राज्यपाल ने तेजपुर स्थित वायुसेना बेस के कमांडिंग अफसर से दूसरा हेलिकॉप्टर मांगा और महिला व उसके पति को अस्पताल के लिए रवाना किया। वह खुद बाद में दूसरे हेलिकॉप्टर से गए।

Summary
Review Date
Reviewed Item
राज्यपाल ने इस गर्भवती महिला की मदद कर इंसानियत की मिसाल पेश की
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags