दूल्हे ने ससुराल में इस तरह कराई एंट्री, दुल्हन देखती ही रह गई, गांववाले भी हैरान

दुल्हन के हाथ से पौधा लगवाया गया, यहां तक कि दूल्हे ने शगुन में भी पौधे ही लिए

दूल्हे ने ससुराल में इस तरह कराई एंट्री, दुल्हन देखती ही रह गई, गांववाले भी हैरान

ससुराल में नई नवेली दुल्हन की एंट्री ऐसे अनोखे तरीके से कराई गई, देखकर वो हैरान रह गई। गांव वालों और मेहमानों ने भी सोचा नहीं था कि ऐसा होगा।
पंजाब के जालंधर में यह अनोखी शादी हुई, जहां ससुराल में दुल्हन की एंट्री से पहले एक खास काम कराया गया। दुल्हन के हाथ से पौधा लगवाया गया, यहां तक कि दूल्हे ने शगुन में भी पौधे ही लिए
[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं
चाहते तो क्लिक करे और सुने”]
सुल्तानपुर लोधी का गांव सराय जट्टां देश का ऐसा पहला गांव है, जहां किसी भी कार्यक्रम में आतिशबाजी नहीं की जाती। खुद सरपंच चरणजीत सिंह ढिल्लों ने अपनी शादी में इस नियम का पालन किया।
चरणजीत की शादी अमृतसर की कोमलप्रीत से हुई है। उन्होंने शादी में गांव को हरा-भरा बनाने का संकल्प लिया। इसके लिए मेहमानों को पौधे तोहफ के रूप में दिए गए। लड़की वालों से भी शगुन में पौधे लिए।
जब कमलप्रीत विदा होकर ससुराल आई तो घर में एंट्री से पहले उससे आंगन में पौधा लगवाया गया। चरणजीत कहते हैं कि वे संत बलबीर सिंह सीचेवाल के दिखाए रास्ते पर चल रहे हैं और ऐसा करके वे बहुत खुश हैं।

new jindal advt tree advt
Back to top button