इस हॉस्पिटल में पहाड़ी कोरवा परिवार बंधक, आनन फानन में किया डिस्चार्ज

स्वास्थ्य संचालक आर प्रसन्ना ने कहा जाँच के बाद होगी कार्रवाई

रायपुर :

ओम हॉस्पिटल महादेव घाट रायपुरा में विगत 25 दिनों से जशपुर के पहाड़ी कोरवा परिवार को बंधक बनाकर रखा था. इसकी जानकारी होने पर आज एनएसयूआई ने अस्पताल पहुंचकर विरोध प्रदर्शन किया है. हंगामा होने पर अस्पताल ने आनन फानन में आज डिस्चार्ज कर दिया है. लेकिन अस्पताल ने 5 नवंबर को मरीज की डिस्चार्ज की स्लिप काटी है.

जानकारी के मुताबिक पहाड़ी कोरवी मरीज महादेव घाट स्थित अस्पताल में 28 सितंबर को भर्ती हुआ था. उनके इलाज में साढ़े तीन लाख रुपए खर्च आया था. ऐसा अस्पताल प्रबंधक का कहना है.

मरीज के परिजनों ने 1 लाख रुपए भुगतान कर दिया था. इसके बाद अस्पताल प्रबंधन पूरा इलाज खर्चे का भुगतान करने पर ही जाने देने की चेतावनी दे डाली. और उनको अस्पताल में ही बंधक बनाकर रखा लिया. हंगामा होने पर अस्पताल ने आज पहाड़ी कोरवा मरीज और परिजन को डिस्चार्ज कर दिया.

राजधानी के ओम हॉस्पिटल में इलाज कराने आये जशपुर के कोरवा पहाड़ी जनजाति के व्यक्ति को बंधक बनाने का मामले पर स्वास्थ्य संचालक आर प्रसन्ना ने जांच रिपोर्ट आने पर कार्रवाई की बात कही है. उन्होंने बताया कि हमारी जांच टीम अस्पताल जाकर आ गई है.

यदि अस्पताल ने गलत किया है तो उस पर उचित कार्रवाई की जाएगी. आर प्रसन्ना ने आगे बताया कि मरीज आज डिस्चार्ज हो गया है. मरीज का आगे का इलाज स्वास्थ्य विभाग निशुल्क कराएगी. अस्पताल ने मरीज से जो भी पैसा लिया होगा, उसे मरीज को वापस लौटाया जाएगा.

1
Back to top button