छतीसगढ़ में महिलाओं की अस्मिता लूट रही है और सरकार मूक दर्शक बनी बैठी है : शालिनी

भाजपा महिला मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष ने बिलासपुर में सामने आए सामूहिक दुष्कर्म और भिलाई के नंदौरी ग्राम में धान संग्रहण केंद्र के गार्ड की हत्या व 06 लाख रुपए की लूट को लेकर निशाना साधा

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष शालिनी राजपूत ने गुरुवार प्रदेश की न्यायधानी बिलासपुर में सामने आए सामूहिक दुष्कर्म और इस्पातनगरी भिलाई के निकट नंदौरी ग्राम में बुधवार की रात धान संग्रहण केंद्र के गार्ड की हत्या व 06 लाख रुपए की लूट के मामलों को लेकर प्रदेश सरकार और पुलिस तंत्र की विफल कार्यप्रणाली पर जमकर निशाना साधा है। श्रीमती राजपूत ने कहा कि लगातार दुष्कर्म, लूट, हत्या, अपहरण जैसी घटनाओं के बाद भी प्रदेश की नाकारा कांग्रेस सरकार क़ानून-व्यवस्था के मामले में अपनी लापरवाही से बाज नहीं आ रही है।

भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती राजपूत ने कहा कि महिलाओं व नागरिकों की सुरक्षा के नाम पर बड़ी-बड़ी डींगें हाँकती प्रदेश सरकार ज़मीनी सच्चाई को अनदेखा कर रही है। कांग्रेस का ढाई वर्षों का शासनकाल महिलाओं-युवतियों के साथ बर्बरता के लिए तो ही जाना जाएगा, साथ ही क़ानून के राज को ठेंगे पर रखकर छुट्टे घूम रहे अपराधियों द्वारा अंजाम दिए जा रहे अपराधों के लिए भी प्रदेश की छवि को कलंकित करने वाला रहा है। श्रीमती राजपूत ने इस सरकार से महिलाओं और नागरिकों की सुरक्षा की उम्मीदें पालना पूरी तरह बेमानी है।

इससे पहले भिलाई में गैंगरेप करने के बाद एक युवती को बेसुध दशा में कार से लाकर सड़क पर फेंकने और बालोद ज़िले के गुरूर थाना क्षेत्र में इलाज कराने आई युवती के साथ ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष व चिकित्सक डॉ. ओमकार महम्मला द्वारा की गई छेड़छाड़ की घटनाओं ने जनभावनाओं को लहूलुहान किया है और प्रदेश सरकार को सियासी लफ़्फ़ाजियों से फ़ुर्सत नहीं है। श्रीमती राजपूत ने इसे प्रदेश का दुर्भाग्य माना कि जिस दुर्ग संभाग और ज़िले से ख़ुद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू सीधा राजनीतिक ताल्लुक़ रखते हैं, वहाँ महिलाओं और युवतियों के साथ दरिंदग़ी, किसानों की आत्महत्या, मारपीट, हत्या, लूट और हिंसक अपराधों की कलंक-कथा लिखी जा रही है। महिलाओं के साथ हुए कई अपराधों को अंजाम देने वालों में कांग्रेस नेता, पदाधिकारी अथवा उनके रिश्तेदारों व क़रीबियों की संलिप्तता ज़ाहिर हुई है।
आखिर इतनी घटनाओ के बाद भी सरकार कोई कदम क्यों उठाती नही दिख रही?

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button