प्रदेश में ब्रांड वाली शराब की ब्रिकी नहीं होने पर उठे सवाल, हुआ हंगामा

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा में आज प्रदेश में बेची जा रही शराब के ब्रांड को लेकर बवाल हुआ। जनता कांग्रेस के विधायक देवव्रत सिंह ने प्रदेश में शराब की आपूर्ति और भुगतान को लेकर सवाल किया। इस पर आबकारी मंत्री कवासी लखमा की अनुपस्थिति पर मंत्री मोहम्मद अकबर ने जवाब दिया। उन्होंने कहा कि नियम अनुसार प्रदेश में शराब की आपूर्ति और भुगतान हो रहा है। शराब के बवाल के बीच प्रदेश में ब्रांड वाली शराब की ब्रिकी नहीं होने पर भी सरकार के खिलाफ सवाल उठाए। इस सवाल से सदन का माहौल गरमा गया। भारी हंगामे के बीच मंत्री ने इसका जवाब देना उचित नहीं समझा।

पंजीकृत बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता देने का मामला उठा

प्रदेश में पंजीकृत बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता देने पर भी विपक्ष ने सवाल खड़े किए। इस सवाल पर उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल ने बताया प्रदेश में 23 लाख 25 हजार पंजीकृत बेरोजगार, बेरोजगारी भत्ता देने पर अभी कोई नीति नहीं बनी है। सरकार इस पर काम कर रही है। इसके बाद सत्ता पक्ष के जबाव सुनकर विपक्ष ने सदन में हंगामा और विपक्ष ने नारेबाजी शुरू कर दिया।

प्रदेश में स्वच्छ भारत के तहत कुल 31 लाख शौचालय का निर्माण कराया गया

विधानसभा में जानकारी दी गई कि प्रदेश में स्वच्छ भारत मिशन तहत 31 लाख शौचालय का निर्माण कराया जा चुका है। योजना में 1 लाख 54 हजार 499 हितग्राही का भुगतान लम्बित है। मंत्री स्वस्थ्य टी एस बाबा ने फंड होने पर एक सप्ताह में पूरा करने का आश्वसन दिया।

Back to top button