जयजयपुर में सामुदायिक शौचालय का आभाव, लोगों के लिए परेशानी का सबब

बहुजन समाज पार्टी के विधायक केशव प्रसाद चंद्रा दो बार यहां से चुनाव जीत चुके हैं। इसके बाद भी परेशानी वैसी ही है

धनेश्वर साहू

जयजयपुर। नगर पंचायत में टॉयलेट का अभाव लंबे समय से बना है। मोदी सरकार के स्वच्छता अभियान के तहत जहां बाकी जिलों के ग्रामीण और नगरीय क्षेत्रों में सामुदायिक शौचालय का निर्माण हुआ है।

वहीं जांजगीर-चांपा जिले के नगर पंचायत जैजैपुर में अभी तक शौचालय का निर्माण अधूरा है। सामुदायिक शौचालय निर्माण ना होने की वजह से दूरदराज से आने वाले यात्रियों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है। नगर पंचायत जैजैपुर विधानसभा क्षेत्र है।

बसपा के विधायक ने दो बार जीत चुनाव

बहुजन समाज पार्टी के विधायक केशव प्रसाद चंद्रा दो बार यहां से चुनाव जीत चुके हैं। इसके बाद भी परेशानी वैसी ही है। इसका मुख्य कारण विधायक और सरकार के बीच आपसी सहमति नहीं बन पा रही है। इसकी वजह से समस्या वैसे ही बनी है।

महिलाओं के लिए विशेष समस्या

जैजैपुर नगर पंचायत है। इस वजह से दूरदराज से लोग शासकीय कामों को लेकर आते है। लेकिन सरकारी विभागों के आयपास सामुदायिक शौचालय ना होने के कारण लोगों को बहुत परेशानी होती है। खासकर महिलाओं को सबसे ज्यादा समस्या का सामना करना पड़ता है।

विधायक आएं और गए लेकिन शौचालय निर्माण सपना

नगर पंचायत में निर्दलीय विधायक के होने से यहां का विकास ठप पड़ा हुआ है। इसलिए अब नगर पंचायत अध्यक्ष मीना चंद्रा यदि यह शौचालय का निर्माण की आस लगाई जा रही है।

लेकिन अभी तक यहां बहुत से विधायक आए और चले गए। नगर पंचायत में दो-तीन अध्यक्ष बदलते रहे लेकिन किसी ने भी नगर पंचायत के बस स्टैंड में शौचालय निर्माण के बारे में सोचा भी नहीं।

1
Back to top button