विवादित बयान से पलटे ‘आप’ नेता, बोले – कांग्रेस के खिलाफ था बयान

आर्मी चीफ को बताया था धमाका करने वाला

चंडीगढ़ :

अमृतसर बम हमले को लेकर आम आदमी पार्टी के विधायक पद से इस्तीफा दे चुके एडवोकेट एचएस फुल्का ने भारतीय सेना प्रमुख बिपिन रावत पर दिए विवादित बयान से मुकर चुके है। ‘आप’ नेता एच एस फुल्का ने सफाई पेश करते हुए एक और बयान दिया।

उन्होंने कहा कि मेरे बयान को गलत समझा गया है। प्लीज पूरा वीडियो ध्यान से देखें, मेरा बयान कांग्रेस के खिलाफ था, न कि आर्मी चीफ के खिलाफ। यह बयान अनजाने में दिया गया था और इसके लिए मुझे खेद है।

अमृतसर बम हमले को लेकर आम आदमी पार्टी के विधायक पद से इस्तीफा दे चुके एडवोकेट एचएस फुल्का ने कहा कि रविवार को गांव अदलीवाल में निरंकारी भवन में हमले की घटना ने मौड़ मंडी ब्लास्ट की याद ताजा कर दी है, जिसे डेरा सच्चा सौदा के श्रद्धालुओं ने ही किया था।

फुल्का यहां तक कह गए कि हो सकता है आर्मी चीफ विपिन रावत ने अपनी बात को सच साबित करने के लिए खुद ही धमाका कराया हो।

आर्मी चीफ ने दी थी ये सलाह

3 नवंबर को सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने एक सेमिनार में कहा था कि पंजाब में आतंकवाद को पुनर्जीवित करने के प्रयास किए जा रहे हैं और अगर जल्द कार्रवाई नहीं की गई तो बहुत देर हो जाएगी।

वह भारत में आंतरिक सुरक्षा की बदलती रूपरेखा रुझान और प्रतिक्रियाएं विषय पर आयोजित एक सेमिनार में सेना के वरिष्ठ अधिकारियों, रक्षा विशेषज्ञों, सरकार के पूर्व वरिष्ठ अधिकारियों और पुलिस कर्मियों को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि पंजाब शांतिपूर्ण रहा है, लेकिन इन बाहरी संबंधों के कारण राज्य में उग्रवाद को फिर से पैदा करने के प्रयास किये जा रहे हैं। हमें सावधान रहना होगा। इसके बाद विपिन रावत पठानकोट सेना के कार्यक्रम में पहुंचे और अपने बयान को फिर दोहराया था।

1
Back to top button