कलेक्टर की अध्यक्षता में एफपीओ के क्रियान्वयन हेतु जिला निगरानी समिति की बैठक संपन्न

सहकारिता को बढ़ावा देनें जिलें के 4 विकासखण्डों में होगा कृषक उत्पाद संगठन का गठन

ब्यूरोहेड आलोक मिश्रा

बलौदाबाजार : जिला पंचायत सभागार में आज कलेक्टर सुनील कुमार जैन की अध्यक्षता में कृषि उत्पादक संगठन योजना के त्वरित क्रियान्वयन हेतु जिला निगरानी समिति की बैठक संपन्न हुई। जिलें में सहकारिता कृषि को बढ़ावा देने के उद्देश्य उक्त बैठक आयोजित की गयी थी।

राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम रायपुर के क्षेत्रीय निदेशक कैलाश कौशिक ने बताया कि राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम के द्वारा जिले के चार विकासखंड बलौदाबाज़ार,पलारी, भाटापारा एवं सिमगा को कृषक उत्पाद संगठन के गठन हेतु चयन किया गया है। प्रत्येक विकासखंड में एक -एक कृषक उत्पाद संगठन का गठन किया जाना है। जिसमें 3 सौ से 5 सौ कृषकों का एक समूह बनाने की योजना है। इसमें सीमांत किसान, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग, अनुसूचित जाति,अनुसूचित जनजाति एवं महिला स्व-सहायता समूह के सदस्य शामिल हो सकेंगे।

प्रत्येक कृषक उत्पाद संगठन को सहकारी समिति अधिनियम अथवा कंपनी अधिनियम के भाग IX के तहत पंजीयन कराना अनिवार्य होगा। एक कृषक न्यूनतम 100 रुपये एवं अधिकतम 2 हजार रुपये का अंशदान कर देकर एफपीओ के सदस्य बन सकतें है। साथ इतना ही मैचिंग राशि केंद्र सरकार के द्वारा संगठन को दी जायेगी।

कौशिक ने आगें बताया कि प्रति कृषक उत्पाद संगठन को 15 लाख एवं प्रबंधन र्खच हेतु अधिकतम 18 लाख रुपये प्रति कृषक उत्पाद संगठन (एफपीओ)को 3 वर्ष तक के लिए सरकार द्वारा मुहैया कराया जाएगा। इस दौरान जिला पंचायत सीईओ डॉ.फरिहा आलम सिद्दीकी, राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम रायपुर के क्षेत्रीय निदेशक कैलाश कौशिक, अग्रणी बैंक प्रबंधक एम.एम.प्रसाद, उपसंचालक कृषि संत कुमार पैकरा,उप संचालक पशुधन विकास डॉ एस पी सिंह,सहायक संचालक उद्यानिकी,सहायक पंजीयक सहकारिता विभाग,नोडल अधिकारी जिला सहकारी बैंक,कृषि विज्ञानं केंद्र से कश्यप,कृषि विकास सहकारी समिति लि.से जाखड़ अन्य विभिन्न विभागों के अधिकारी गण सहित गांव से आये किसान उपस्थित थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button