छत्तीसगढ़

स्वामी विवेकानंद के संदेशों की सार्थकता पूरी दुनिया के लिए : भूपेश बघेल

मुख्यमंत्री ने स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय परिसर में किया लगभग 68 करोड़ रूपए के निर्माण कार्यों का भूमिपूजन

रायपुर।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कहा है कि स्वामी विवेकानंद ने के संदेशों की सार्थकता पूरी दुनिया के लिए है। स्वामी विवेकानंद ने देश और दुनिया को मानवता के कल्याण का मार्ग दिखाया। उन्होंने नर-नारायण की सेवा को सबसे बड़ा उद्देश्य बताया है।

मुख्यमंत्री आज दुर्ग जिले के नेवई स्थित स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय परिसर में स्वामी विवेकानंद जंयती समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने विश्वविद्यालय परसिर में लगभग 68 करोड़ की लागत के विभिन्न निर्माण कार्यों का भूमिपूजन किया।

इस अवसर पर गृह एवं लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू, वाणिज्य कर एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा, तकनीकी शिक्षा मंत्री उमेश पटेल, विधायक और नगर निगम भिलाई के महापौर देवेन्द्र यादव और कोण्डागांव विधायक मोहन मरकाम विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री बघेल ने विश्वविद्यालय परिसर में स्थापित स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की। श्री बघेल ने यहां विवेकानंद युवा कौशल सेतु योजना का शुभारंभ भी किया। मुख्यमंत्री ने स्वामी विवेकानंद जयंती के अवसर पर यहां आयोजित समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने स्वामी विवेकानंद के छत्तीसगढ़ में बिताए गए पलों को स्मरण करते हुए कहा कि स्वामी विवेकानंद 12 वर्ष की उम्र में जबलपुर से बैलगाड़ी से रायपुर आए थे।

वे युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत रहे हैं। उनकी स्मृति को चिस्थायी बनाए रखने के लिए उनके जन्म दिवस को युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि स्वामी जी की संदेशों से प्रेरित होकर स्वामी आत्मानंद महाराज ने रायपुर में विवेकानंद आश्रम की स्थापना की है।

विवेकानंद आश्रम में स्वामी जी की स्मृतियों को अक्षुण्य रखने का कार्य किया जाता है। उन्होंने प्रदेशवासियों को स्वामी विवेकानंद की जयंती की शुभकामनाएं देते हुए उनके कार्य और संदेश को आत्मसात करते हुए आगे बढ़ने और प्रदेश के विकास में सहभागी बनने की जरूरत बतायी।

मुख्यमंत्री ने विश्वविद्यालय परिसर में जिन कार्यों का भूमिपूजन किया उनमें चार यूटीडी भवन और सेन्ट्रल लाईब्रेरी के प्रथम चरण के निर्माण कार्य शामिल हैं। श्री बघेल ने कहा कि स्वामी विवेकानंद विश्वविद्यालय तकनीकी शिक्षा, प्रशिक्षण और कौशल उन्नयन के जरिए युवाओं के भविष्य गढ़ने का कार्य कर रहा है।

उन्होंने कहा कि स्वामी जी की स्मृति को चिरस्थायी बनाए रखने के लिए ही विश्वविद्यालय का नामकरण उनके नाम पर रखा गया है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए गृहमंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि तकनीकी शिक्षा एक ऐसा क्षेत्र है, जिसके सहारे नई उंचाईयों को छुआ जा सकता है। तकनीकी शिक्षा मंत्री श्री उमेश पटेल ने भी कार्यक्रम को सम्बोधित किया।

इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. एन.के. वर्मा, कुल सचिव डॉ. डी.एन. सिरशान, संभागायुक्त श्री दिलीप वासनीकर, स्वामी विवेकांनद राष्ट्रीय सेवा योजना समिति के अध्यक्ष एस.आर. ठाकुर सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी, विश्वविद्यालय एवं अन्य तकनीकी महाविद्यालयों के प्राचार्यगण, प्राध्यापकगण, अन्य जनप्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में महाविद्यालयीन छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

Summary
Review Date
Reviewed Item
स्वामी विवेकानंद के संदेशों की सार्थकता पूरी दुनिया के लिए : भूपेश बघेल
Author Rating
51star1star1star1star1star
congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags
Back to top button