गुजरात के गिर वन में शेरों की रहस्यमयी मौत, सरकार ने दी जांच के आदेश

जांच प्रधान मुख्य वन्य संरक्षक द्वारा की जाएगी

नई दिल्ली :

गुजरात के गिर वन में एक ही जगह से 10 दिनों के दौरान 11 शेरों के मिलने से वन्यजीव संरक्षकों की पेशानी पर बल पड़े हुए हैं।

गुजरात के गिर वन में शेरों की रहस्यमयी मौत से अफसरों को शक है कि इनमें से ज्यादातर की मौत आपसी झगड़े में हुई।

सरकार ने प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्यप्राणी) की अगुआई में इस मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।

इस संबंध में एक अधिकारी ने बताया कि सभी मृत शेर पिछले कुछ दिनों में गिर मंडल मुख्यत: दालखनिया रेंज में मिले हैं।

प्रशासनिक उद्देश्य से गिर वन को पूर्वी तथा पश्चिमी हिस्सों में बांटा गया है।

उन्होंने बताया कि एक शेरनी का शव बुधवार को अमरेली जिले के राजुला के पास वन से बरामद किया गया

तथा तीन अन्य शेर उसी दिन दालखनिया रेंज में मृत पाए गए। जांच प्रधान मुख्य वन्य संरक्षक द्वारा की जाएगी।

वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पिछले कुछ दिनों में सात और शेरों के शव बरामद किए गए हैं।

वन एवं पर्यावरण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. राजीव कुमार गुप्ता ने कहा कि राज्य सरकार ने जांच के आदेश दिए हैं।

गुप्ता ने कहा कि प्रारंभिक सूचना से पता चला है कि आपस में लडऩे के कारण आठ शेरों की मौत हुई। शेष तीन की पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है।

Back to top button