तेज रफ्तार कार से कूदकर भागने की कोशिश कर रही थी नई नवेली दुल्हन, जाने मामला

कार से कूदने वाली यह दुल्हन शादी के नाम पर लोगों से ठगी करती है

वाराणसी:वाराणसी भदोही मार्ग पर एक तेज रफ्तार कार से कूदकर भागने की कोशिश कर रही एक नई नवेली दुल्हन का बीच सड़क पर हाई वोल्टेज ड्रामा देख किसी ने पुलिस को फोन कर दिया, इस बीच मौके पर पुलिस भी पहुंच गई।

पुलिस ने जब इस मामले की परतें खोली तो वह दंग रह गई। दरअसल नई दुल्हन की शादी वाराणसी के एक होटल में हुई थी, ये इस महिला की पांचवी शादी थी। शादी के बाद कार में वह सुसराल जा रही थी लेकिन बीच सड़क पर ही दुल्हन ने हाई वोल्टेज ड्रामा शुरू कर दिया ।

पुलिस ने पूछताछ के बाद बताया कि कार से कूदने वाली यह दुल्हन शादी के नाम पर लोगों से ठगी करती है, जिसका पूरा गिरोह इस ठगी में लगा हुआ है। पुलिस ने बताया कि झारखंड राज्य के धनबाद जिले निवासी सलमा खातून ने राजस्थान के जाजे कला शाहपुर के कैलाश से अपनी शादी तय की थी।

तय अनुबंध के मुताबिक उसने एक मध्यस्थ के जरिए 1 लाख 70 हजार रुपए भी शादी संपन्न होने के बाद होटल में वसूल लिया था। बता दें कि महिला रांची से अकेले ही वाराणसी के एक होटल में आई थी।

गुरुवार को महिला ने कैलाश के साथ विधि विधान से शादी की, होटल में शादी के बाद कार से दुल्हन बनी सलमा अपने पति और उसके परिजनों के साथ राजस्थान जाने के लिए इलाहाबाद के लिए रवाना हुई। यहां से ट्रेन से उन्हें राजस्थान जाना था। इस बीच जब वे लोग कपसेठी चौराहे पहुंचे, तो यहां चाय पीने के लिए रुके थे।

इसी बीच दुल्हन बनी सलमा टॉयलेट का बहाना करके एक मस्जिद के आड़ में गई और यहां से शोर मचा कर हाई वोल्टेज ड्रामा शुरू कर दिया। इस दौरान बारातियों ने महिला को कार में बैठाने की कोशिश की, पर महिला लगातार मदद की गुहार लगाती रही। दुल्हन के चिल्लाने पर ग्रामीण इकठ्ठा हो गए, सभी ने मिलकर बारातियों को पुलिस के हवाले कर दिया, इसमें पंडित मुरारी लाल शर्मा दूल्हा कैलाश का बड़ा भाई रामसहाय परिजन सुरेंद्र ममेरा भाई गणपत भी शामिल है।

पुलिस की पूछताछ के बाद बारातियों ने पूरी कहानी बयां की, वहीं इस दौरान दुल्हन की मां नसीमा खातून भी शुक्रवार के दोपहर कपसेठी थाने पहुंची और पुलिस के सामने उसने शादी कर ठगी की बात कबूल की। वहीं थानाध्यक्ष के मुताबिक इस मामले में किसी पक्ष ने शिकायत नहीं की है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button